Fire
बिहार समस्तीपुर

बिहार: समस्तीपुर में 18 घर जलकर राख, कमरे में सो रही एक बच्ची और दो महिलाओं की झुलसकर मौत

बिहार के समस्तीपुर जिले में गैस सिलेंडर लीक होने से हुई अगलगी में आठ साल की बच्ची और दो महिलाओं की मौत हो गई। तीनों एक ही परिवार के थे। अगलगी में 18 लोगों के घर भी जलकर राख हो गए। घटना जिले के कल्याणपुर थाना क्षेत्र के रामभद्रपुर पंचायत के छक्कन टोली गांव में शुक्रवार देर रात की है। 

मुखिया फिरोजा खातून ने बताया कि मृतकों में सोनेलाल राय की 65 वर्षीय पत्नी किशुन देवी, अमलेश राय की 28 वर्षीय पत्नी  संगीता देवी एवं 8 वर्षीय पुत्री गंगा कुमारी शामिल हैं। अगलगी में सोनेलाल राय, रविंद्र राय, अमलेश राय, रामकृपाल यादव, पंकज कुमार यादव, धीरज यादव, नीरज यादव, विद्यानंद राय, पांडव राय, शीला देवी, उमेश राय, जितेंद्र शर्मा, धर्मेंद्र शर्मा, बिंदु देवी, अमित कुमार शर्मा, सरवन राय, नंदकिशोर यादव एवं लक्ष्मी शर्मा के घर जलकर पूरी तरह स्वाहा जो गए। रात में आग की लपट उठने पर स्थानीय लोग आग बुझाने में जुट गए। बाद में सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी पहुंची और ग्रामीणों के सहयोग से काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। 

इस अगलगी में नगदी सहित लाखों रुपये के सामान के नुकसान होने की बात लोगों ने बताई। हादसे की सूचना पर थाना अध्यक्ष ब्रजकिशोर सिंह भी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और तीनों मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर भेज दिया है। उन्होंने बताया कि अब तक इस मामले में पीड़ित के परिजनों ने आवेदन नहीं दिया है।

बांका में मजदूरी करने गए माता-पिता और घर में लगी आग में जिंदा जले तीन मासूम
बता दें कि बिहार के विभिन्न जिलों में इनदिनों अगलगी की कई घटनाएं घटीं हैं। जिसमें कई लोगों की मौत हो चुकी है। 2 अप्रैल को बांका में घर में लगी आग में तीन बच्चे जिंदा जल गए। यह घटना जिले के धोरैया प्रखंड के धनकुंड थाना क्षेत्र के बबुरा गांव की है। जानकारी के अनुसार माता-पिता घर से मजदूरी करने बाहर गए हुए थे। इस दौरान लगी आग में जहां ग्रामीण बुधो दास का घर जलकर राख हो गया वहीं उसकी 6 वर्षीय बेटी चांदनी कुमारी एवं 5 वर्षीय बेटी सोनाक्षी कुमारी की जलकर मौत हो गई वहीं गंभीर रूप से झुलसे डेढ़ वर्षीय बेटे ओम कुमार ने सनौला अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।  आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया। 

घर में लगी आग में भाई-बहन समेत छह बच्चे जिंदा जल गए
वहीं बीते मंगलवार को अररिया जिले में भुट्टा पकाते समय उड़ी चिंगारी से एक घर में लगी आग में भाई-बहन समेत छह बच्चे जिंदा जल गए। घटना जिले के पलासी प्रखंड के कबैया गांव में मंगलवार की है। पलासी प्रखंड के कबैया गांव में भाई-बहन समेत छह बच्चे फूस के बने घर लोगों से छिपकर भुट्टा(Corn) पका रहे थे। इसी दौरान उड़ी चिंगारी से घर में आग लग गई और बच्चों को घर से निकलने का मौका तक नहीं मिल सका। जब तक बच्चों का शोर सुनकर लोग पहुंचते तब तक वे सभी आग में जिंदा जल गए। घटना में किसी भी बच्चे को बचाया नहीं जा सका। 

Share This Post