Career Sarkari Naukri

69000 शिक्षक भर्ती: आवेदन में बचे 3 दिन, मोबाइल नम्बर पर निर्णय नहीं

परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 69000 सहायक अध्यापकों की भर्ती में मोबाइल नंबर बदलने के कारण सैकड़ों अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। आवेदन के लिए सिर्फ तीन दिन का समय बचा है लेकिन अब तक बेसिक शिक्षा विभाग कोई निर्णय नहीं ले सका है। इसके चलते बड़ी संख्या में अभ्यर्थी तनाव में हैं। इस बीच रविवार साप्ताहिक और सोमवार को ईद के चलते बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय बंद रहेगा।

ऑनलाइन आवेदन के लिए उसी मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जा रहा है जो अभ्यर्थियों ने दिसंबर 2018 में लिखित परीक्षा का फॉर्म भरने के दौरान उपलब्ध कराया था। हालांकि डेढ़ साल के दौरान सैकड़ों अभ्यर्थियों का नंबर मोबाइल चोरी होने या अन्य कारणों से बदल गया है। इसके चलते ये अभ्यर्थी फार्म नहीं भर पा रहे हैं। दो दिन से ये अभ्यर्थी शिक्षा निदेशालय स्थित बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय पर धरना दे रहे हैं लेकिन कोई समाधान नहीं हो रहा।

परिषद ने हेल्पलाइन नंबर और मोबाइल नंबर संशोधन के लिए ई-मेल भी जारी किया था लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। आवेदन की अंतिम तिथि 26 मई रात 12 बजे तक है। ऐसे में बहुत कम होने के कारण अभ्यर्थी परेशान हैं।

मोबाइल नंबर संशोधन की अनुमति को याचिका
शिक्षक भर्ती के लिए मोबाइल नंबर में संशोधन की अनुमति देने की मांग को लेकर हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में मुकदमा भी हो गया है। पीड़ित अभ्यर्थियों का कहना है कि मोबाइल नंबर खोना बहुत स्वाभाविक बात है इसके आधार पर किसी को शिक्षक भर्ती की चयन प्रक्रिया से बाहर नहीं किया जा सकता।

कंपनियों ने दूसरे उपभोक्ताओं को दे दिए नंबर
शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों के पुराने नंबरों में से कई नंबर मोबाइल कंपनियों ने दूसरे उपभोक्ताओं को एलॉट कर दिए हैं। अब ये अभ्यर्थी यदि उन उपभोक्ताओं को फोन कर ओटीपी मांग रहे हैं तो वे इस डर से नहीं बता रहे की कहीं खाते से रुपये तो नहीं उड़ा लेंगे।

प्रत्यावेदन के लिए प्रशासन ने नहीं दी अनुमति
प्रयागराज। मोबाइल नंबर संशोधन के लिए अभ्यर्थियों से प्रत्यावेदन लिए जाने की अनुमति प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर नहीं दी है। मोबाइल नम्बर की समस्या से पीड़ित शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों ने शनिवार को बेसिक शिक्षा परिषद और प्रशासन के अधिकारियों को ज्ञापन दिया। सूत्रों की मानें तो परिषद ने जिला प्रशासन से मोबाइल नम्बर संशोधन के लिए अभ्यर्थियों को व्यक्तिगत रूप से बुलाकर प्रत्यावेदन लेने की अनुमति मांगी थी। इसके लिए एहतियात के तौर पर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम की व्यवस्था करने का भी अनुरोध किया था। लेकिन काफी भीड़ जुटने की आशंका के मद्देनजर प्रशासन ने मना कर दिया। इसके बाद परिषद ने शासन से इस संदर्भ में दिशा-निर्देश मांगे है।

1.21 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने किया आवेदन
प्रयागराज। शनिवार तक 1.21 लाख अभ्यर्थियों ने शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन किया है। शुरूआती दिनों में वेबसाइट को लेकर जो समस्या आ रही थी वो दूर हो गई है।

Share This Post