टेक & ऑटो

नए साल में महंगी हो गईं सभी कारें, इन्हें खरीदने पर चुकानी पड़ेगी पहले से ज्यादा रकम

भारत में 1 जनवरी से दिग्गज कार निर्माता कंपनियां अपने वाहनों की कीमत बढ़ाने जा रही हैं। आज से आपको कार खरीदने के लिए पहले से ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी हालांकि वाहनों की कीमत में कंपनियां कुछ ही फीसद का इजाफा करने जा रही हैं, इसके बावजूद ग्राहकों की जेब पर बोझ पड़ना तय है। साल 2020 ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के लिए कुछ ख़ास नहीं रहा है, जहां एक तरफ सेक्टर मंदी की मार झेल रहा था वहीं कोविड-19 की वजह से हालात और भी खराब हो गए। हालत तो ये थी कि वाहनों की बिक्री का स्तर काफी नीचे आ गया जिसके चलते कंपनियों को काफी नुकसान झेला पड़ा है।

क्या हैं कीमत बढ़ने के कारण

भारत में 1 अप्रैल 2020 से नये BS6 नॉर्म्स को लागू कर दिए गये हैं जिसके बाद देश भर में पुराने BS4 वाहनों को रिप्लेस करके उनकी जगह पर BS6 वाहनों की बिक्री शुरू कर दी गई है। इस नियम के चलते कंपनियों के पास भारी संख्या में पुराने नॉर्म्स वाला वाहनों का स्टॉक बचा रह गया। नतीजतन कंपनियों को इससे काफी नुकसान झेलना पड़ा है। इसके साथ ही नये नॉर्म्स वाले इंजन और इसके इक्विपमेंट्स की कीमत पुराने नॉर्म्स वाले वाहनों की तुलना में ज्यादा है, हालांकि कंपनियों ने कीमत में ज्यादा बढ़ोत्तरी नहीं की है जिसके चलते भी काफी नुकसान हुआ है और यही सब वजहें हैं जिनके चलते कार निर्माता कंपनियों को अपने वाहनों की कीमत बढ़ानी पड़ रही है।

इसके अलावा कोविड-19 की वजह से वाहनों को तैयार करने के लिए इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की उपलब्धता भी प्रभावित हुई है जिसकी वजह से इनकी कीमत में बढ़ोत्तरी आई है। प्लास्टिक और स्टील अब पहले के मुकाबले महंगा हो गया है, नतीजतन इसके इस्तेमाल से कारों की कीमत भी बढ़ जाएगी। यही नहीं प्रोडक्शन प्लांट पर अब पहले के मुकाबले काफी कम कर्मचारी काम कर रहे हैं जिससे प्रोडक्शन स्पीड काफी कम हो गई है और कंपनियां नुकसान झेलने को मजबूर हैं। ये सब कारण वाहनों की कीमत बढ़ने के लिए जिम्मेदार हैं।

ये कंपनियां बढ़ाएंगी अपनी कारों की कीमत

अगर कीमत बढ़ाने की बात करें तो इस रेस में मारुति सुजुकी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, स्कॉडा, एमजी मोटर्स, टाटा मोटर्स, होंडा कार्स, रेनॉ, हुंडई, डैटसन, निसान, किआ मोटर्स, बीएमडब्लू ,फोर्ड, फॉक्सवैगन आदि शामिल हैं। इन कंपनियों की कारें खरीदने के लिए आपको बढ़ी हुई कीमत चुकानी पड़ेगी। कीमत मामूली बढ़ोत्तरी हुई है लेकिन ग्राहकों की जेब पर फिर भी बोझ पड़ेगा, साथ ही डिस्काउंट ऑफर भी कुछ दिनों तक रोके जा सकते हैं।

Share This Post