राष्ट्रीय

19 सालों में तीसरी बार सबसे गर्म रहा अगस्त, बारिश भी हुई औसत से 24% कम

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार  2002 के बाद से पिछले 19 वर्षों में अगस्त में सबसे कम वर्षा दर्ज की गई है, जो लंबी समय के एवरेज से 24% कम है। वहीं तब से अब से अगस्त में तीसरी बार सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया।

अगस्त के दौरान दर्ज किए गए मध्य भारत में औसत अधिकतम तापमान अब तक का दूसरा सबसे अधिक (31.25 डिग्री सेल्सियस) है, जबकि औसत न्यूनतम तापमान छठा-सबसे अधिक (24.50 डिग्री सेल्सियस) है। 

9-16 अगस्त और 23-27 अगस्त के दौरान कमजोर मानसून के दो प्रमुख दौर थे, जब भारत के उत्तर-पश्चिम, मध्य और आसपास के प्रायद्वीपीय और पश्चिमी तट पर कम बारिश हुई थी। भारत में सप्ताह-दर-सप्ताह रेन वैरिएशन के संदर्भ में इंट्रा सीजनल वैरिएशन से पता चलता है कि मानसून की वर्षा की गतिविधियाँ तीन सप्ताह तक लगातार कम रही हैं। 

इधर, आज की बात करें तो राजधानी में शुक्रवार की सुबह हुई बारिश के कारण न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 22.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।
सुबह 8.30 बजे अपडेट किए गए भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के आंकड़ों के अनुसार, आयानगर वेधशाला में 32 मिमी, पालम में 18 मिमी, लोधी रोड पर 6 मिमी, जबकि सफदरजंग वेधशाला में 5 मिमी बारिश दर्ज की गई।

शहर में बाद में दिन में और बारिश होने की संभावना है क्योंकि आईएमडी ने शुक्रवार को मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग ने भी अगले तीन दिनों तक मध्यम बारिश की संभावना जताई है।

Share This Post