B.ed College Road
बिहार समस्तीपुर

समस्तीपुर: बड़ी राजनीति का शिकार हुआ काशीपुर का बी एड कॉलेज रोड, पिछले वर्ष के जलजमाव से नहीं सुधरे नगर निगम कर्मचारी

समस्तीपुर: बिहार में मॉनसून एक हफ्ते में दस्तक देने वाला है। पिछले वर्ष के जैसे इस वर्ष भी अधिक बारिश होने का अनुमान मौसम विभाग द्वारा लगाया गया है। समस्तीपुर नगर निगम छेत्र में जलजमाव की समस्या आम रही है। पुरे शहर में पानी निकाशी की कोई ठोस व्यवस्था नहीं है। पिछले वर्ष इसी वजह से पुरे शहर ने भयंकर जलजमाव का सामना किया था। पिछले वर्ष पुरे समस्तीपुर जिले के अलग अलग छेत्र के सभी नेताओं का सबसे बड़ा राजनैतिक अड्डा बना था शहर के काशीपुर का बी एड कॉलेज रोड। लेकिन इस वर्ष सारे नेताओं, कर्मचारियों के साथ साथ आम जनता भी सोई है जबतक उनके घर में फिर से पानी नहीं आ जाता।

बता दें की काशीपुर बी एड कॉलेज रोड शहर के सबसे पॉश इलाकों में आता है। पिछले वर्ष यहाँ अधिक बारिश की वजह से भयंकर जलजमाव हुआ था और ये जलजमाव पुरे जिले में चर्चा का केंद्र बन चूका था। कई नेता यहाँ राजनीती चमकाने आये, जिला पदाधिकारी को भी पिछले वर्ष यहाँ आक्रोश का सामना करना पारा था और इस जगह पे जिले के चर्चित नेताओं का आवास भी है। लेकिन मॉनसून आने वाला है और इस वर्ष भी किसी प्रकार की कोई ठोस तैयारी नहीं हो पाई है।

Matrics Website
Matrics Website

बी एड कॉलेज से तिरहुत अकेडमी तक होना था सड़क और नाला निर्माण

बता दें की नगर परिषद् द्वारा पिछले वर्ष जुलाई में ही टेंडर प्रक्रिया पूरी कर ली गयी थी जिसमे 73 लाख की लागत से बी एड कॉलेज से होते हुए तिरहुत अकेडमी तक होना था सड़क और नाला निर्माण। उसके बाद अक्टूबर में चुनाव आया और आनन् फानन में नगर परिषद् कर्मचारियों ने पार्षदों द्वारा शिलान्यास करवा दिया लेकिन उतनी तेजी से कार्य पूरा करवाने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई गयी। सूत्रों की माने तो एक पार्षद जो की स्थायी समिति के सदस्य भी हैं उनकी ओछी और द्वेष भरी राजनीती को सफल बनाने हेतु ठीकेदार और पार्षद की मिली भगत से कार्य को एक साल तक टाला गया है।

राजनीती के तहत बी एड कॉलेज छोड़ आधे रास्ते चालु हुआ सड़क का निर्माण कार्य

स्थानीय लोगों का कहना है की अब जबकि मॉनसून आने वाला है तब से काम करवाने के बजाये राजनीती के तहत लक्ष्मी मेमोरियल स्कुल से कार्य की सुरुवात करवाई गयी है जिसमे सभापति और ठेकेदार की मिलीभगत का भी आरोप लगाया जा रहा है। लोगों का कहना है की मॉनसून आने से ठीक पहले ही काम कियूं सुरु हुआ वो भी आधे रास्ते से जबकि कार्य बी एड कॉलेज से करवाना था और अभी सुरु किया गया है तो बारिश में कार्य कैसे होगा ये कैसे सुनिश्चित किया गया है कियुँकि आधे काम के बीच में अगर अधिक बर्षा हुई तो स्थिति और नरकीय हो जाएगी।

स्थानीय जनता में है आक्रोश

स्थानीय जनता का कहना है की सभापति को इसका संज्ञान लेते हुए इस काम को जल्द पूरा करवाना था लेकिन वो कहाँ सोये थे, उपसभापति तो बस फोटो खिचवाने की फ़िराक में रहते हैं जो की किसी काम के लायक नहीं हैं। लोगों का कहना है की पुर टेंडर प्रक्रिया से लेकर काम में हो रही लापरवाही को लेकर जिला पदाधिकारी के समक्ष ज्ञापन सौंपा जायेगा और अगर इस वर्ष फिर जलजमाव की समस्या उत्पन्न होती है तो इसका सीधा जिम्मेवार नगर परिषद् प्रसाशन होगा।

Share This Post