बिहार बेगूसराय

बेगूसराय : कुख्यात इंदल यादव को पुलिस ने दबोचा ,देसी कट्टा व जिदा कारतूस बरामद

बेगूसराय: बखरी थाना क्षेत्र का कुख्यात इंदल यादव शनिवार को बखरी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। हत्या सहित करीब आधा दर्जन से अधिक संगीन मामलों में आरोपित इंदल की तलाश बखरी सहित कई थाने की पुलिस को थी। हाल ही में नावकोठी थाना क्षेत्र के समसा गांव में एक किसान दंपती को उसने गोली मारी थी। जिसमें किसान की पत्नी की मौत हो गई थी, जबकि किसान आज भी जिदगी की जंग लड़ रहा है। वर्ष 2017 में भाजपा नेता समीर देव हत्याकांड में भी वह शामिल रह चुका है। उक्त जानकारी शनिवार की देर शाम बखरी थाना परिसर में आयोजित प्रेस वार्ता में को संबोधित करते हुए एसडीपीओ ओमप्रकाश ने दी।

एसडीपीओ ने बताया कि बीते 29 मई को समसा गांव निवासी किसान मकसूदन महतो के घर पर चढ़कर अपराधियों ने गोलीबारी की थी। घटना के समय किसान मकसूदन और उनकी पत्नी दरवाजे पर बैठे थे। घटना में किसान और उनकी पत्नी को गोली लगी थी। गोली लगने से किसान की पत्नी प्रमिला देवी की मौत हो गई थी, जबकि मकसूदन आज भी जिदगी की जंग लड़ रहा है। इस सनसनीखेज वारदात के बाद एसपी के आदेश के आलोक में स्पेशल टीम गठित कर जल्द से जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी की मुहिम छेड़ दी गई। इसी कड़ी में हत्याकांड का मुख्य आरोपित कुख्यात अपराधी राटन गांव निवासी रामनंदन यादव उर्फ रामू यादव के पुत्र इंदल यादव को गुप्त सूचना के आधार पर राटन मठ से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार अपराधी की निशानदेही पर एक देसी कट्टा समेत दो जिदा कारतूस एवं दो खोखा भी बरामद किया गया है। एसडीपीओ ने बताया कि इंदल वर्ष 2017 में भाजपा नेता समीर देव हत्याकांड में भी शामिल रह चुका है। उक्त मामले में भी पुलिस द्वारा उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। उसके खिलाफ चार्जशीट किया जा चुका है। बावजूद जेल से छूटकर आने के बाद वह कई मामलों को अंजाम देता रहा। इसके आपराधिक इतिहास के संबंध में डीएसपी ने बताया कि इंदल के खिलाफ बखरी थाना में दो तथा नावकोठी थाना में तीन संगीन मामले दर्ज हैं। इसके अलावा समस्तीपुर जिले के हसनपुर एवं खगड़िया जिले के गंगौर थाना में भी उसके खिलाफ हत्या, रंगदारी, लूट, आ‌र्म्स एक्ट व चोरी के कई मामले दर्ज हैं। जिसमें वह फरार चल रहा था। तीनों जिलों की पुलिस को सरगर्मी से उसकी तलाश थी। एसडीपीओ ने कुख्यात की गिरफ्तारी में शामिल इंस्पेक्टर सह थानाध्यक्ष मुकेश कुमार पासवान, नावकोठी थानाध्यक्ष संतोष कुमार, परिहारा ओपी अध्यक्ष राजेश कुमार ठाकुर, एसआइ राजेश कुमार के साथ छापामारी में शामिल पुलिस बलों को शाबाशी दी है।

Share This Post