बिहार

भागलपुर JLNMCH में कोरोना पेशेंट की डेड बॉडी उठाने के नाम पर हो रहा वसूली का खेल

शर्मनाक! हार के भागलपुर में जेएलएनएमसीएच के चंद कर्मचारी कोरोना से हो रही मौतों के बाद संक्रमण के खौफ को भुनाकर अपने लिए अवसर में तब्दील कर रहे हैं। मृतकों के परिजनों से लाश ढुलाई के नाम पर रुपये वसूले जाने का खेल जेएलएनएमसीएच में जारी है। परिजन खुलेआम आरोप लगा रहे हैं कि उन लोगों को पीपीई किट देते नहीं हैं और बिना रुपये लिए ट्रॉलीमैन लाश को ट्रॉली से रखने, ढोने व उतारकर शव वाहन में रखने से इंकार कर देते हैं। 

आदमपुर क्षेत्र के रहने वाले कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की 29 जुलाई की सुबह 10 बजे जेएलएनएमसीएच में मौत हो गयी थी। मृतक केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण राज्यमंत्री के करीबी थे। बावजूद जब उनकी मौत हुई तो अस्पताल में लाश ढोने वाले कर्मचारियों ने ढुलाई के नाम पर हजार रुपये मांगे थे। परिजनों के मुताबिक, उनलोगों ने ट्रॉलीमैन को तो रुपये नहीं दिये, लेकिन बरारी घाट पर दो हजार रुपये देना पड़ गया।

आम से खास तक हैं वसूली के शिकार
यूको बैंक के सीनियर मैनेजर की कुछ दिन पहले जेएलएनएमसीएच में मौत हुई थी। उस वक्त परिजनों ने आरोप लगाया था कि उनसे जेएलएनएमसीएच के कर्मचारियों ने पांच हजार रुपये और लाश जलाने वाले डोम ने डेढ़ लाख रुपये की मांग की थी। नहीं देने पर लाश को लौटा दिया गया था। अगले दिन प्रशासन की पहल पर करीब 50 हजार रुपये में डील हुई, तब जाकर लाश का अंतिम संस्कार हुआ। इसी तरह 31 जुलाई यानी शुक्रवार की शाम को कोरोना से मृत 60 वर्षीय पिता की लाश की लेने आये कहलगांव कस्बा निवासी 22 वर्षीय युवक से ट्रॉलीमैन से दो हजार रुपये मांगे थे। नहीं देने पर लाश को शव वाहन के पास छोड़कर चले गये थे। फिर युवक को अपनी पिता की लाश को एंबुलेंस में रखनी पड़ी थी। 

शिकायत करें तो कहां, जब जिम्मेदार का पता नहीं
परिजनों का कहना है कि ऐसा नहीं है कि वे लोग शिकायत करना नहीं जानते हैं, लेकिन साहबों का पता नहीं रहता है। कहलगांव के युवक ने बताया कि वह इमरजेंसी के कंट्रोल रूम में गया तो वहां पर हेल्थ मैनेजर नहीं था। वह अधीक्षक कार्यालय गया तो वहां उन्हें गार्ड ने बताया कि साहब नहीं हैं। 

अगर कोरोना मरीज या फिर मृतक के परिजनों से कोई कर्मचारी, नर्स या डॉक्टर रुपये की मांग करता है तो मेरे कार्यालय व कंट्रोल रूम में आकर लिखित शिकायत करें। अगर कार्यालय बंद होने या कंट्रोल रूम में कोई नहीं है तो इस नंबर पर 06412101001 शिकायत करें। न केवल समस्याओं का निस्तारण होगा, बल्कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।  -डॉ. कुमार गौरव, प्रभारी अधीक्षक, जेएलएनएमसीएच, भागलपुर 

Share This Post