राष्ट्रीय

अरुणाचल से लापता 5 भारतीयों पर आयी बड़ी खबर, केन्द्रीय मंत्री ने दी ये अहम जानकारी

पूर्वी लद्दाख सीमा पर भारत और चीन के बीच तनाव बरकरार है. लद्दाख से लेकरअरुणाचल प्रदेश तक चीन अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. अरुणाचल प्रदेश से अगवा किए गए 5 भारतीयों को लेकर चीन ने पहले तो इसकी कोई भी खबर से इनकार किया, लेकिन अब उसने माना है कि ये लोग उसके यहां है. इस पूरे प्रकरण पर भारत के तरफ से भी बयान आया है. केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने मंगलवार को कहा है कि चीन द्वारा अगवा किये गये पांच भारतीय नागरिकों वापस लाने की प्रक्रिया चल रही है.

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री रिजिजू ने अपने एक ट्वीट में कहा कि भारतीय सेना की तरफ से भेजे गए हॉटलाइन संदेश पर चीन की पीएलए ने जवाब दिया है. उन्होंने पुष्टि की है अरुणाचल प्रदेश से लापता युवा उनकी तरफ पाए गए हैं. उन्हें अधिकारियों को सौंपे जाने की आगे की आपौचारिकताओं पर काम किया जा रहा है.

बता दें कि चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता झाओ ल‍िज‍िन ने सोमवार को अपने एक बयान में कहा था कि ‘चीन ने कभी अरुणाचल प्रदेश को मान्‍यता नहीं दी है जो चीन का दक्षिणी तिब्‍बत इलाका है.’ अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण पर चीनी प्रवक्ता ने कहा कि हमारे पास अभी इस बात की कोई जानकारी नहीं है और ना ही भारतीय सेना ने ऐसी कोई अपील की हैं.

गौरतलब है सबसे पहले अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने ट्वीट किया था कि चीनी सैनिकों ने 5 भारतीयों का अपहरण कर लिया है. एरिंग ने बताया कि प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले के 5 लोगों को कथित तौर पर पीएलए के जवान उठाकर ले गये हैं. बता दें कि पांचों लोग तागिन समुदाय से संबंधित हैं. वे लोग जंगल में शिकार के लिए गए थे, जहां से इन्हें चीनी सेना उठाकर ले गई.

Share This Post
Kunal Raj
Editor-In-Chief l Software Engineer l Digital Marketer