Bihar Election 2020
बिहार विधानसभा चुनाव 2020

Bihar Assembly Election: टिकट दावेदारी में महिला आयोग की सदस्य भी पीछे नहीं, दावेदारी ठोकी

राजनीति में आधी आबादी की भागीदारी के लिए महिला नेता भी पीछे नहीं हैं। महिला नेताओं की बात करें तो महिला आयोग सदस्य इसमें सबसे आगे हैं। राज्य महिला आयोग की कई वर्तमान तथा पूर्व सदस्यों ने टिकट के लिए अपनी-अपनी दावेदारी सम्बद्ध दलों में ठोंक दी है।

दरअसल महिला आयोग का सदस्य एक राजनीति भरपाई का जरिया रहा है। इस नाते महिला आयोग की सदस्य राजनीतिक अखाड़े में पुरुषों से दो-चार करने को तैयार रहती हैं। महिला आयोग की पहली अध्यक्ष मंजू प्रकाश से लेकर लेसी सिंह तक आयोग से विधानसभा तक का सफर तय कर चुकी हैं। कहकशां परवीन तो राज्यसभा की सदस्य रह चुकी हैं। बिहार महिला आयोग के वर्तमान कार्यकाल की कई महिला सदस्य भी बिहार विधानसभा चुनाव में भाग्य आजमाने को तैयार हैं।

भाजपा से निक्की हेमब्रम बांका के कटोरिया विधानसभा से प्रचार-प्रसार में लगी हैं। ये 2015 में भी कटोरिया विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की उम्मीदवार रह चुकी हैं। 2015 के विधानसभा चुनाव में बहुत कम वोट से हारी थी। बिहार महिला आयोग की वर्तमान अध्यक्ष दिलमणी मिश्रा को भाजपा से टिकट नहीं मिला था। इससे नाराज होकर उन्होंने जदयू का दामन थाम लिया है। पालीगंज से विधायक रह चुकीं उषा विद्यार्थी को 2015 में टिकट नहीं मिला। उसकी भरपाई के लिए बिहार राज्य आयोग का सदस्य बनाया गया था। इस बार फिर दावेदारी ठोक रही हैं। वह पालीगंज या बिक्रम विधानसभा सीट से टिकट की मांग कर रही हैं।

प्रतिमा सिन्हा नालंदा जिले के इस्लामपुर विधानसभा क्षेत्र संख्या 174 में 2007-10 तक जदयू से विधायक रह चुकी हैं। पिछले दो कार्यकाल से वह महिला आयोग में सदस्य हैं। इस विधानसभा चुनाव में बतौर उम्मीदवार प्रचार-प्रसार कर रही हैं। मंजू देवी समस्तीपुर के कल्याणपुर की विधायक रह चुकी हैं। टिकट नहीं मिलने के कारण इन्हें भी आयोग में सदस्य बनाया गया था। इस बार भी वह दावेदार मानी जा रही हैं। जदयू से औरंगाबाद देव विधानसभा सीट से 2005-10 विधायक रह चुकी रेणु देवी महिला आयोग की वर्तमान में सदस्य हैं। इस बार भी चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। आधी आबादी की आवाज को बुलंद करने के लिए इलाके में घर-घर जाकर प्रचार-प्रसार कर रही हैं। यह जदयू में महत्वपूर्ण पदों पर रह चुकी हैं। इस बार कुटुंबा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की तैयार हैं। पिछली कार्यकाल में महिला आयोग की अध्यक्ष रह चुकी अंजुम आरा भी चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही हैं। 

Share This Post
Kunal Raj
Editor-In-Chief l Software Engineer l Digital Marketer