राजनीति

Bihar Electon 2020: चिराग पासवान 21 से करेंगे चुनाव अभियान की शुरुआत

लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख चिराग पासवान 21 अक्‍टॅूबर से अपने चुनाव अभियान की शुरुआत कर सकते हैं। पिता राम विलास पासवान के निधन के बाद शोकाकुल चिराग के सा‍मने परिवार को संबल देने के साथ ही पार्टी प्रत्‍याशियों के चयन और चुनाव प्रचार को गति देने की भी चुनौती है। सूत्रों का कहना है कि 21 अक्‍टूबर से चिराग चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगे।

लोजपा, दूसरे चरण में करीब 50 प्रत्याशियों को पार्टी मैदान में उतारेगी। पटना में बुलाकर प्रत्याशियों को सिंबल दिया जा रहा है। एकमा विधानसभा से 2015 में भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़े कामेश्वर सिंह मुन्ना को लोजपा ने उम्मीदवार बनाया है। पूर्व उद्योग मंत्री और भारतीय सबलोग पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष रेणु कुशवाहा को खगड़िया से लोजपा ने मैदान में उतारा है। दूसरे चरण में चार सीटों पर भाजपा के खिलाफ भी पार्टी अपना उम्मीदवार उतार रही है। इनमें भागलपुर से राजेश कुमार वर्मा, राघोपुर से राकेश रौशन, गोविंदगंज से राजू तिवारी और लालगंज से रामजकुमार साह को पार्टी मैदान में उतारने का निर्णय लिया है। गोविंदगंज और लालगंज लोजपा की सीटिंग सीट है।


चिराग के सामने सबसे बड़ी चुनौती
लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के समक्ष कठिन समय में बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है। कदम-कदम पर मार्ग-दर्शन करने वाले उनके पिता और पार्टी के संस्थापक रामविलास पासवान अब नहीं रहे। सामने बिहार विधानसभा का चुनाव है। पार्टी अकेले ही चुनावी महासमर में उतरी है। ऐसे समय में चिराग के कंधे पर परिवार को संबल देने के साथ ही पार्टी का नेतृत्व की भी जिम्मेदारी होगी। इसके अलावा पार्टी प्रत्याशियों के चयन और चुनाव प्रचार की कमान संभालने जैसी बड़ी चुनौतियां भी होंगी।


हालांकि पार्टी की कमान चिराग के हाथों में रामविलास पासवान करीब एक साल पहले ही दे चुके थे। पार्टी का अंतिम निर्णय चिराग स्वयं लेने लगे थे। पर, रामविलास पासवान का अनुभव और उनका बड़े कद का लाभ भी चिराग पासवान को बखूबी मिलता रहता था, जो अब नहीं मिलेगा। अभी उनकी सबसे बड़ी परीक्षा चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन होगी।

Share This Post