बिहार

बिहार : शादी करने पहुंची महिला नक्सली पुष्पा कुमारी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिहार के औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत लंगुराही गांव से गिरफ्तार महिला नक्सली पुष्पा कुमारी उर्फ गौरी कुमारी उर्फ सीता कुमारी कई कांडों में शामिल रही है। उस पर छह से अधिक मामले दर्ज हैं। सीआरपीएफ और कोबरा-205 ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

शादी करने पहुंची थी पुष्पा, हो गई गिरफ्तार
महिला नक्सली पुष्पा कुमारी शादी करने के लिए अपने गांव लंगुराही आई थी। गुरुवार को गांव में बारात आ गई थी लेकिन दूल्हा नहीं पहुंचा था। टीम ने छापेमारी कर महिला को गिरफ्तार कर लिया। महिला नक्सली जबरदस्ती शादी कर रही थी या नहीं, इसकी पुष्टि नहीं हो सकी। कहा गया कि युवक नहीं पहुंचा जिसके कारण शादी टल गई। 

एसपी दीपक वर्णवाल ने मुफस्सिल थाना में आयोजित प्रेस वार्ता में कहा कि पुष्पा कुमारी उर्फ गौरी कुमारी पर कई थानों में मामले दर्ज हैं। 13 जुलाई 2017 को मदनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत खुटवां बथान में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ हुई थी जिसमें वह अभियुक्त बनी थी। आमस थाना क्षेत्र में सोलर प्लांट में 19 सितंबर 2017 को आग लगा दी गई थी। यहां विस्फोट किया गया था जिसमें पुष्पा कुमारी शामिल थी। 

देव थाना क्षेत्र में सुद्दी बिगहा गांव में एमएलसी राजन सिंह के घर पर नक्सलियों ने हमला किया था। यहां उनके चाचा की हत्या कर दी गई थी और एक भवन को विस्फोट कर उड़ा दिया गया था। इस दौरान कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया था जिसमें वह शामिल रही थी। आमस थाना क्षेत्र में हमला कर हत्या करने के मामले में अभियुक्त थीं। 8 नवंबर 2018 को इस घटना को अंजाम दिया गया था जिसके बाद आमस थाना में मुकदमा दर्ज हुआ था। डुमरिया थाना क्षेत्र में भी एक घटना हुई थी जिसको लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। लुटुआ थाना में भी उस पर एक कांड दर्ज है। वर्ष 2019 में 15 फरवरी को एक घटना को अंजाम देने के मामले में अभियुक्त थी। हत्या और हमला के मामले में उसकी तलाश हो रही थी।

वर्ष 2016 में शामिल हुई थी संगठन में
वर्ष 2016 में नक्सली संगठन में वह शामिल हुई और 2017 में तीन घटनाओं को उसने  अंजाम दिया। पूछताछ में पता चला कि वह इंसास राइफल लेकर चलती थी और तीनों  घटनाओं में उसने इसका उपयोग किया था। उसने अपने प्रशिक्षण के बारे में भी  जानकारी दी है। एसपी ने बताया कि वह संदीप यादव के दस्ते के साथ रहती थी।  संदीप यादव शीर्ष नक्सली है और उस पर सैकड़ों कांड दर्ज हैं। 

Share This Post