दरभंगा

दरभंगा में बोले BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा, पान, माछ और मखान को विश्व स्तर पर पहुंचाएं

मखाना का 80 प्रतिशत उत्पादन मिथिला में होता है। इसका सालाना कारोबार करीब छह सौ करोड़ का है। हम इसे और आगे बढ़ाना चाहते हैं। इसके लिए किसानों को आगे आना होगा। हम किसानों से अपील करते हैं कि वे मिथिला के प्रसिद्ध पान, माछ और मखान को विश्व स्तर पर पहुंचाएं। ये बातें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कही। वे शनिवार को शहर के मखाना अनुसंधान केंद्र में मखाना और मछली उत्पादकों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर पैकेज के 20 लाख करोड़ में से एक लाख करोड़ रुपए इन्हीं किसानों के विकास के लिए स्वीकृत किए हैं। हम किसानों से अपील करते हैं कि वे इसका लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि मखाना बिहार की तस्वीर बदलने की ताकत रखता है। दो लाख टन मखाना उत्पादन में 10 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने किसानों से समूह बनाकर मछली व मखाना उत्पादन की योजना बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस व्यवसाय के वैल्यू एडीशन के लिए केंद्र सरकार ने 20 हजार करोड़ रुपए का इंतजाम किया है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि एम्स दरभंगा में ही बनेगा। 

मखाना उद्योग लगाने वालों को मिलेगा अनुदान: मोदी
उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि पान, माछ और मखान मिथिला की पहचान है। 12-13 वर्षों में बिहार में मछली का उत्पादन दोगुना हो गया है। अभी बिहार में छह लाख 42 हजार मीट्रिक टन मछली का प्रति वर्ष उत्पादन हो रहा है। इसमें से 33 हजार मीट्रिक टन मछली बाहर भेजी जाती है। बिहार सरकार ने यह ऐलान किया है कि मखाना उद्योग लगाने वालों को 15 से 25 प्रतिशत तक का अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने मिथिला के लोगों से छोटे उद्योग लगाने की अपील की।

मछली उत्पादकों को मिलेगा बीमा का लाभ: जायसवाल
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने कहा कि अन्य फसलों की तरह मछली उत्पादकों को भी बीमा योजना का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने मछुआरों को छह वर्षों में 25 हजार करोड़ रुपए दिये हैं। उन्होंने स्थानीय किसानों से मछली दाना का उद्योग लगाने के लिए आगे आने की अपील की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अति पिछड़ों को आरक्षण का लाभ देकर आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं।

Share This Post