बिहार विधानसभा चुनाव 2020

Bihar elections 2020: LJP के खिलाफ BJP के तेवर सख्त, कहा- बिहार में लोजपा नहीं है NDA का हिस्सा

चुनावी मैदान में अकेले उतरी लोजपा पर अब भाजपा के तेवर सख्त हो चले हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने दो टूक कहा है कि लोजपा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानी एनडीए का हिस्सा नहीं है। ऐसे में अगर गैर एनडीए प्रत्याशियों ने प्रधानमंत्री का नाम लिया या उनकी तस्वीर का उपयोग किया तो ऐसे लोगों के खिलाफ पार्टी कानूनी कार्रवाई करेगी।

मंगलवार को चुनाव प्रचार में जाने से पहले पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बातचीत में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में लोजपा एनडीए गठबंधन का हिस्सा नहीं है। बिहार में भाजपा-जदयू गठबंधन के साथ हम और वीआईपी हैं। राज्यों में अलग-अलग गठबंधन हो सकता है। इसलिए अब लोजपा के मुद्दे पर किसी को भी भ्रम में नहीं रहना चाहिए। पिछले झारखंड चुनाव में भी लोजपा अलग चुनाव लड़ी थी। ऐसे में लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे या अन्य गैर एनडीए दलों के प्रत्याशी अगर प्रधानमंत्री के नाम और तस्वीर का उपयोग करते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। बिहार में भाजपा-जदयू का गठबंधन पिछले 22 वर्षों से अटूट है। बिहार की जनता को इस गठबंधन पर पूरा भरोसा है।

भाजपा से बागी होकर लोजपा, रालोसपा या निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे 9 नेताओं के खिलाफ पार्टी की ओर से की गई कार्रवाई को जायज ठहराते हुए सुशील मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने पार्टी के निर्देशों का उल्लंघन किया है, उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए भाजपा से छह साल के लिए निष्कासित किया गया है। जिन्हें पार्टी से निकाला गया है, वे विरोध करेंगे, मगर उसका कोई असर पड़ने वाला नहीं है। भाजपा या गठबंधन के अन्य दलों के उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव लड़ रहे पार्टी नेताओं को निकालने के अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा था। भाजपा नेतृत्व की ओर से ऐसे लोगों को पहले ही चेता दिया गया था। 

Share This Post