समस्तीपुर

समस्तीपुर से बस सेवा शुरू, यात्रियों को मिली राहत

समस्तीपुर । एक महीने बाद मंगलवार से बस सेवाएं शुरू हो गई। पहला दिन होने के कारण कर्पूरी बस पड़ाव में यात्रियों की संख्या काफी कम रही। अधिकतर रूटों की बसें चंद यात्रियों को लेकर रवाना हुई। पटना, मुजफ्फरपुर, पटोरी, दरभंगा, बेगूसराय समेत कई रूटों में अधिकतर बसें 10 से 15 यात्री को ही लेकर रवाना हुई। हालांकि पटना रूट में स्थिति कुछ बेहतर रही । इस रूट की बस में 15 से 20 यात्री सवार दिखे। यात्रियों की संख्या कम होने की वजह से कई ट्रांसपोर्टरों ने बसों का परिचालन नहीं किया। ट्रांसपोर्टरों का कहना है कि कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण यात्रियों की संख्या काफी कम है। ऐसे में ईंधन, चालक एवं कंडक्टर का खर्च भी निकलना मुश्किल है । यात्रियों की संख्या बढ़ने के बाद ही बसों का परिचालन किया जाएगा। यात्रियों से गुलजार रहने वाला कर्पूरी बस पड़ाव एवं सरकारी बस पड़ाव में काफी कम संख्या में यात्री रहे।

सीट से अधिक सवारी नहीं रहेंगे बस में, सुरक्षा किट से रहेंगे लैस

जिला मोटर व्यवसायी संघ के जिलाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने बताया कि सभी बड़े एवं छोटे वाहनों में निर्धारित सीट पर ही यात्रियों को बिठाने का निर्देश दिया गया है। साथ ही सभी कर्मियों को मास्क पहनकर ही बस संचालित करने का निर्देश दिया गया है।

ट्रांसपोर्टरों का दावा है कि वे सरकार के निर्देशों का पूरी तरीके से पालन कर रहे हैं। यात्रियों ने ली राहत की सांस पटना जा रहे दीपक कुमार ने कहा कि बस सेवा शुरू होने से निम्न एवं मध्यम तबके के लोगों को काफी राहत मिलेगी। पटना रूट में बस नहीं चलने की वजह से लोगों को काफी परेशानी हो रही थी। रोसड़ा के मनोज महतो ने कहा कि उन्हें आवश्यक काम से मुजफ्फरपुर जाना था, मगर बस सेवा शुरू नहीं होने की वजह से वह नहीं जा पा रहे थे। सरकार ने बस सेवा को शुरू करके काफी राहत का काम किया है। मोटर व्यवसायी संघ के सदस्यों ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से ट्रांसपोर्टरों की आर्थिक कमर टूट चुकी थी । स्थिति सामान्य होने में काफी लंबा समय लग जाएगा। कई ट्रांसपोर्टर तो इतने प्रभावित हुए हैं कि वह दोबारा बस परिचालन की स्थिति में नहीं है।

Share This Post