बिहार

कोरोना की वजह से बदली शादी की रस्में, परिवार के साथ बारात लेकर दूल्हे के घर पहुंची दुल्हन

शादी एक ऐसी चीज है जिसके लिए लड़की और लड़के के मन में कई अरमान होते हैं। दोनों को जीवनभर इससे जुड़े लम्हें याद रहते हैं। ऐसे में कोरोना वायरस ने कई लोगों के अरमानों पर पानी फेर दिया है। वहीं कई लोग इस महामारी में अपनी और अपनों की जान जोखिम में डालकर शादी कर रहे हैं।

इसी बीच बेतिया में एक अनोखी शादी हुई है। यहां लड़के वाले लड़की वालों के घर नहीं आए बल्कि लड़की वालों ने उनके घर जाकर शादी की। दरअसल, बेतिया के बिट्टू और बगहा की अंशु की 23 अप्रैल को शादी होनी थी। सबकुछ तय हो चुका था। मगर कोरोना के बढ़ते मामलों और सरकार के दिशानिर्देश की वजह से दोनों परिवारों के अरमानों पर पानी फिर गया। ऐसे में लड़की वालों ने शादी के लिए रस्मों को ही बदल दिया।

रिश्तेदारों को भेजा मैसेज
दरअसल, लड़की पक्ष ने अपने शुभचिंतकों, रिश्तेदारों को एक मैसेज भेजा। इसमें लिखा था कि कोरोना की वजह से बेटी की बारात हमारे घर नहीं आएगी। हम बेटी की शादी करवाने खुद लड़का पक्ष के यहां जा रहे हैं। आपको हुई असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं। इसके बाद दुल्हन अंशु अपने माता-पिता और परिवार के साथ ससुराल पहुंची। यहां दुर्गा मंदिर स्थित विवाह भवन में सादे समारोह में वर-वधू की शादी हुई। यह अनोखा शादी मिसाल बन गई है।

Share This Post