Remedivisir
पटना बिहार

बिहार में बैठकर दिल्ली में ऑक्सीजन-रेमडेसिविर के नाम पर ठगी, पटना में शातिर साइबर अपराधी गिरफ्तार

कोरोना महामारी में लोगों को ऑक्सीजन और रेमडेसिविर का झांसा देकर ठगी करने वाले साइबर अपराधियों के खिलाफ ईओयू की कार्रवाई जारी है। पटना से बैठकर दिल्ली में कोरोना संक्रमितों और उनके परिजनों से ठगी करने वाले विजय बेनेडिक्ट को ईओयू ने गिरफ्तार भी कर लिया है। 

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल थाना कांड संख्या 114/21 के मामले में पुलिस को विजय बेनेडिक्ट नाम के शातिर साइबर अपराधी की तलाश थी। यह मामला अप्रैल में दर्ज किया गया था। इस शातिर ने दिल्ली के रहने वाले कई लोगों से लाखों रुपए की ठगी की थी। दिल्ली पुलिस की कई टीमें ठगी के ऐसे ही मामलों में बिहार से जुड़े अपराधियों की तलाश में इन दिनों कई जिलों में छापेमारी कर रही है। ईओयू के अफसर दिल्ली पुलिस की मदद कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस की इनपुट पर ईओयू ने विजय बेनेडिक्ट को गिरफ्तार किया है। वह दीघा के आईटीआई रोड स्थित मरियम टोला का है। वह दानापुर के तकिया पर स्थित गौटाल में रह रहा था।

विजय बेनेडिक्ट का एक बैंक खाता पाटलिपुत्र हार्उंसग कॉलोनी स्थित कोटक महिंद्रा बैंक में है। ईओयू ने इस खाते की जांच की तो पता चला कि हाल के दिनों में उसके खाते में 16.60 लाख रुपए मंगाए गए। ये रकम ऑक्सीजन और रेमडेसिवर के नाम पर ठगी के थे। विजय ने पूछताछ के दौरान अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। उसके पास से विभिन्न बैंक खातों के कागजात, चेक बुक और एटीएम आदि बरामद हुए हैं।

Share This Post