समस्तीपुर

देश के पूर्वी क्षेत्र की सबसे बड़ी अत्याधुनिक समस्तीपुर के मिथिला डेयरी प्लांट का मुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन

समस्तीपुर : समस्तीपुर के मिथिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड परिसर में पांच लाख लीटर क्षमता वाले नवनिर्मित अत्याधुनिक डेयरी प्लांट का उदघाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना से वीडियो कॉफ्रेसिग से किया। कृषि सह पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग के मंत्री डॉ. प्रेम कुमार की अध्यक्षता में हुए कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी उपस्थित रहे। वहीं डेयरी परिसर में जिलाधिकारी शशांक शुभंकर, प्रबंध निदेशक धर्मेंद्र कुमार श्रीवास्तव मौजूद रहे। प्रबंध निदेशक धर्मेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि मिथिलांचल के सभी पशुपालकों के लिए आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है। उनके कार्य क्षेत्र को मुख्यमंत्री द्वारा यह उपहार दिया गया है। इस प्लांट के बन जाने से यहां से बल्क दुग्ध का विपणन झारखंड, पश्चिम बंगाल, असम के अलावा पड़ोसी देश नेपाल में असानी से की जा सकेगी। समारोह में उमेश राय, बैजनाथ राय, बैजू पासवान, राम विनोद पंडित, राजीव कुमार मिश्रा, दया शंकर राय, राम प्यारी देवी, उषा देवी, अंजू देवी, कुमारी शशि प्रभा, इंदू देवी, मंजू देवी आदि उपस्थित रहे।

प्लांट में ऑटोमेटिक रूप से तैयार होगा उत्पाद

प्लांट को समस्तीपुर, दरभंगा एवं मधुबनी जिले के तीन लाख उत्पादकों को समर्पित किया गया है। प्लांट के संवर्धन से समस्तीपुर डेयरी परिसर में आठ लाख लीटर तक दूध का प्रसंस्करण हो पाएगा। प्लांट के द्वारा ऑटोमेटिक रूप से अति आधुनिक मिल्को स्क्रीन एवं मिल्को स्कैन मशीन के द्वारा दुग्ध के संग्रहण, गुणवत्ता की जांच, प्रसंस्करण, पैकेजिग एवं दुग्ध उत्पाद यथा रसगुल्ला, पेड़ा, गुलाब जामुन, चमचम, पनीर, लस्सी एवं मखाना खीर के साथ दुग्ध चूर्ण व सफेद बटर का उत्पादन आसानी से किया जाएगा। भारत के पूर्वी क्षेत्र में एक ही परिसर में सबसे बड़ी अत्याधुनिक डेयरी प्लांट का निर्माण बिहार के दुग्ध उत्पादक एवं उपभोक्ता के लिए गर्व की बात है।

Share This Post