Christmas day
समस्तीपुर

समस्तीपुर में क्रिसमस की तैयारियों में जुटा समाज, घरों व गिरजाघरों की साफ-सफाई अंतिम दौर में

समस्तीपुर : क्रिसमस डे यानी प्रभु यीशु मसीह के जन्मदिन की तैयारियां शुरु हो चुकी है। घरों व गिरजाघरों की साफ सफाई का काम अंतिम दौर में है। बाइबिल पाठ, प्रभु जन्म की परिस्थितियां व पुन: प्रभु के अवतरण पर मौजूद परिस्थितियों के अनुरुप व्यक्ति को तैयार रहने का संदेश दिया जा रहा है। गिरजाघरों में कैरल गान शुरू हो गया है। प्रभु आगमन को लेकर इस समुदाय के लोग बाहरी और आंतरिक तैयारियों में जुट गए हैं। बाहरी तैयारियों में चर्च, घर के अन्य संस्थानों की साफ सफाई, पुष्प लगाना, कैंडल जलाना, क्रिसमस ट्री सजाना व तार लगाने और आंतरिक तैयारियों में पश्चाताप करना, क्षमा करना, मेल मिलाप करना, कैरल गान व बाइबिल पाठ के जरिए स्वंय को प्रभु के राज्य के योग्य बनाने की तैयारियां चल रही है।

कोरोना को लेकर बरती जा रही सतर्कता

कोरोना महामारी को लेकर क्रिसमस डे तैयारियों में विशेष सतर्कता देखने को मिल रही है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा गाइडलाइन के निर्देशों का विशेष ख्याल रखा जा रहा है। प्रार्थना सभा व अन्य कार्यक्रम में लोगों के बीच शारीरिक दूरी बनी रहे इसके लिए विशेष तैयारी की जा रही है। शहर के क्लब रोड स्थित लाल चर्च में साफ सफाई व अन्य तैयारियां शुरु हो गई है। इसके साथ ही अन्य गिरिजाघरों को सजाने का काम जारी है।

24 की रात में मनेगा जन्मोत्सव

प्रभु यीशु मसीह का जन्मोत्सव 24 दिसंबर की रात 12 बजे धूमधाम से मनाया जाएगा। सभी गिरजाघरों में प्रार्थना सभाएं होंगी, विश्वमंगल की कामना की जाएगी। केके काटे जाएंगे। एक दूसरे को क्रिसमस की बधाई देगे। इस बार कोरोना महामारी को लेकर गिरिजाघरों में मेला व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध रहेगा।

क्या कहते हैं लोग

फोटो: 20 एसएएम 07

कोरोना महामारी को लेकर क्रिसमस डे की तैयारियों में स्वास्थ्य विभाग के गाइडलाइन व निर्देशों का विशेष ख्याल रखा जा रहा है। शारीरिक दूरी, मास्क व सैनिटाइजर के उपयोग को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। लोगों से भी अपील की जा रही है कि वे स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का पालन करते हुए आयोजन में भाग लें। इस बर्ष कोरोना महामारी को लेकर प्रार्थना सभा के बाद कैंडल जलाने की प्रथा बंद रहेगी।

सेमुएल वेंजामिन, पादरी, लाल चर्च

Share This Post