पटना बिहार

पटना के पहले डबल डेकर फ्लाईओवर का सीएम नीतीश ने किया शिलान्यास, जानें खर्च और खासियतें

राजधानी पटना को पहला तो बिहार के दूसरे डबल डेकर फ्लाईओवर का शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिलान्यास कर दिया है। सीएम ने अशोक राजपथ के कारगिल चौक पर फ्लाईओवर का शिलान्यास किया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी, पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन, पथ निर्माण के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा सहित अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे। बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के प्रबंध निदेशक संजय सिंह ने शुक्रवार को कार्यक्रम स्थल का जायजा लिया था।

अधिकारियों के अनुसार अशोक राजपथ पर कारगिल चौक से पीएमसीएच होते हुए साइंस कॉलेज तक डबल डेकर फ्लाईओवर का निर्माण होगा। बिहार सरकार की यह महत्वाकांक्षी परियोजना के शिलान्यास होते ही काम शुरू हो जाएगा। काम शुरू होने के 3 साल के भीतर निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। इसके बनने से अशोक राजपथ को जाम से मुक्ति मिलेगी। डबल डेकर फ्लाईओवर के एक तल्ले पर आने तो दूसरे तल्ले से जाने की व्यवस्था रहेगी।

कारगिल चौक से साइंस कॉलेज की ओर दूसरे तल तो साइंस कॉलेज से कारगिल चौक आने के लिए पहले तल का उपयोग होगा। इसमें तीन जंक्शन बनाए जाएंगे जो कारगिल चौक, कृष्णा घाट व एनआईटी मोड़ के समीप होंगे। जबकि इसकी संपर्कता कारगिल चौक, पीएमसीएच, कृष्णाघाट, एनआईटी, लॉ कॉलेज व महेंद्रू से होगी। परियोजना के निर्माण में जगह के अनुसार सिंगल पियर व पोर्टल फ्रेम का प्रावधान किया गया है। साथ ही फ्लाईओवर के नीचे सर्विस रोड का भी प्रावधान किया गया है।

इससे डबल डेकर फ्लाईओवर के अलावा जमीन से भी गुजरने वाली गाड़ियों की आवाजाही आसानी से हो सकेगी। पीएमसीएच आने-जाने वाले मरीजों को कठिनाई न हो, इसका खास ध्यान रखा गया है। चार लेन की संपर्कता को एंबुलेंस के डेडिकेटेड कॉरिडोर को ध्यान में रखते हुए किया गया है। इसके अलावा निर्माणाधीन जेपी गंगा पथ परियोजना को भी अशोक राजपथ फ्लाईओवर से जोड़ने का प्रावधान है।

इससे गायघाट, पटना सिटी व कच्ची दरगाह तक जेपी गंगा पथ के माध्यम से यातायाता परिचालन सुगम हो जाएगा। परियोजना की लागत 422 करोड़ है। उल्लेखनीय है कि बिहार में छपरा में पहला डबल डेकर फ्लाईओवर का निर्माण हो रहा है। इसके बाद कारगिल चौक से साइंस कॉलेज तक बनने वाला डबल डेकर फ्लाईओवर दूसरा है। इसकी लंबाई 2.198 किमी होगी।

एक नजर में

422 करोड़ होगा खर्च
2.20 किमी भू-तल लंबा
1.50 किमी पहला तल
2.20 किमी दूसरा तल
7.50 मीटर कैरेज वे चौड़ा
02 लेन होगा दोनों तल

Share This Post