दिल्ली

कोरोना संक्रमित महिला अपने तीन दिन के बच्चे को अस्पताल में छोड़कर हुई फरार

दिल्ली के बाड़ा हिंदूराव अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित एक महिला द्वारा अपने तीन दिन की नवजात बच्ची को छोड़कर फरार होने का सनसनखेज मामला सामने आया है। इस घटना से हड़कंप मच गया है। अस्पताल प्रशासन सकते में है। उधर घटना की जानकारी मिलते ही सब्जी मंडी थाना पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। मामले की जांच में जुटी पुलिस महिला की तलाश में अस्पताल सहित असपास के इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

फरार महिला की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। दरसल संक्रमित महिला से दूसरे लोगों में भी कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। पुलिस के मुताबिक इस  गर्भवती महिला को गत 9 अगस्त को लेबरपेन को होने पर कस्तूरबा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। महिला ने बेटी को जन्म दिया था। इस दौरान महिला की कोरोना जांच भी कराई गई थी, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई गई। इसके बाद मां-बेटी दोनो ही को 11 अगस्त को बाड़ा हिंदूराव अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। दरअसल कस्तूरबा गांधी अस्पताल में कोरोना का इलाज नहीं होता है।

इस कारण महिला को नवजात बच्ची के साथ बाड़ा हिंदृ राव अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां नवजात को नर्सरी में रखा गया था, जबकि महिला को कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया था। इस बीच गत 12 अगस्त की रात करीब पौने दो बजे महिला बच्ची को अस्पताल में ही छोड़कर अचानक फरार हो गई। जैसे ही महिला के फरार होने की खबर पता चला, अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई और आनन-फानन में घटना की सूचना पुलिस को दी गई।

पुलिस पिछले दो दिनों से लगातार फरार महिला की तलाश कर रही है, लेकिन उसका कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।  फरार महिला ने अस्पताल में भर्ती होते वक्त अपना पता बिहार स्थित औरंगाबाद का दर्ज कराया था। इतना ही नहीं उसने अपने पति का नाम व मोबाइल फोन नंबर भी अस्पताल में लिखाया था, लेकिन वह फोन भी फिलहाल बंद आ रहा है। सब्जी मंडी थाने की कई टीमे महिला की तलाश में जुटी हैं, लेकिन उसका अबतक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। उधर मासूम नवजात अभी भी नर्सरी में है। उसके स्वास्थ्य पर भी डॉक्टर नजर रखे हुए हैं।

Share This Post