Sarkari Naukri बिहार

कोरोना ने थामी बिहार पुलिस में बहाली की रफ्तार, 58 हजार पद खाली

बिहार पुलिस में एक तिहाई से ज्यादा पद खाली पड़े हैं। सीनियर पुलिस अफसरों से लेकर सिपाही रैंक तक में करीब 58 हजार रिक्तियां हैं। बिहार पुलिस में विभिन्न श्रेणी के कुल 142106 पद हैं। पर इसकी जगह मात्र 84125 अधिकारी और जवान ही कार्यरत हैं। बिहार पुलिस में कितनी रिक्तियां हैं इसकी जानकारी आरटीआई कार्यकर्ता शिव प्रकाश राय ने लोक सूचना के अधिकार के तहत मांगी थी। जिसके जवाब में डीआईजी (मानवाधिकार) सह लोक सूचना पदाधिकारी राजेश त्रिपाठी द्वारा यह जानकारी दी गई है।

इंस्पेक्टर से एएसआई के 18 हजार पद खाली
पुलिसिंग की रीढ़ माने जानेवाले इंस्पेक्टर, दारोगा और एएसआई के पद बड़ी संख्या में खाली हैं। बिहार पुलिस में इंस्पेक्टर व समकक्ष स्तर के कुल 2295 पद हैं, जिसमें 969 रिक्तियां हैं। यानी 1326 इंस्पेक्टर और उसके समकक्ष के पुलिस अधिकारी उपलब्ध हैं। दारोगा रैंक में स्वीकृत बल की संख्या 20108 है। हालांकि इसके मुकाबले 10593 ही कार्यरत हैं। इस कोटि में 9515 पद रिक्त हैं। एएसआई श्रेणी में अधिकारियों की और भी ज्यादा कमी है। 14796 की जगह 7310 एएसआई से काम चल रहा है। एएसआई में 7486 पद खाली हैं जो स्वीकृल बल के आधे से अधिक है।

सीनियर अफसर के पद भी खाली
सिपाही, हवलदार, एएसआई, दारोगा और इंस्पेक्टर के अलावा पुलिस में सीनियर अफसरों की भी कमी है। आईजी रैंक में 23 की जगह 15 अधिकारी उपलब्ध हैं। वहीं बिहार पुलिस सेवा के अपर पुलिस अधीक्षक, वरीय पुलिस उपाधीक्षक, पुलिस उपाधीक्षक और स्टॉफ अफसर रैंक के बिहार में कुल 838 पद हैं। पर इसकी जगह 557 ही कार्यरत हैं।

सिपाही के 29 तो हवलदार के 10 हजार पद रिक्त
बिहार पुलिस में सिपाही 29208 पद रिक्त हैं। पुलिस मुख्यालय के आंकड़े बताते हैं कि सिपाही व समकक्ष कोटि के कुल 86647 पद हैं। पर इसके मुकाबले मात्र 57439 जवान ही कार्यरत हैं। हवलदार पद का हाल भी कुछ ऐसा ही है। इस कोटि में 10519 पद रिक्त हैं। 17290 स्वीकृत बल के मुकाबले महज 6771 हवलदार उपलब्ध हैं।

11 अप्रैल 2019 से प्रोन्नति पर रोक
राज्य सरकार के अधीन सेवाओं में 11 अप्रैल 2019 से प्रोन्नति पर रोक है। पुलिस में इतनी तादाद में रिक्तियों का यह एक बड़ा कारण है। इंस्पेक्टर, एएसआई और हवलदार तीनों ऐसे पद हैं जिन्हें सिर्फ प्रोन्नति से भरा जाता है। वहीं दारोगा और डीएसपी के पद पर सीधी नियुक्ति के अलावा प्रोन्नति दी जाती है। 

सिपाही के 11880 पदों पर बहाली प्रक्रिया जारी 
फिलहाल दारोगा के 2064, सार्जेंट के 215 और सिपाही के 11880 पदों पर बहाली की प्रक्रिया जारी है। इसके तुरंत बाद दूसरे चरण में भी बड़ी संख्या में दारोगा व सिपाही की बहाली होगी। 

Share This Post