बिहार

Coronavirus in Bihar: बिहार में 24 घंटे में मिले 239 नये मरीज, संक्रमितों की संख्या पांच हजार के पार

बिहार में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है.बिहार कोरोना संक्रमण के मामले में पांच हजार का आंकड़ा अब पार कर चुका है. प्रदेश में रविवार को कोरोना के 239 नए मामले सामने आये, इसके साथ ही बिहार में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 5070 पहुच गई है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा शनिवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार अब तक कुल 30 कोरोना पॉजिटिवों की मौत हो चुकी है. वहीं बिहार में कोरोना से ठीक होने वालों मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है, राज्य में अब तक 2405 मरीज स्वस्थ्य होकर अपने घर लौट चुके है. सूबे के सभी 38 जिलों में कोरोना महामारी ने अपनी दस्तक दे दी है.

बिहार में 2405 मरीज हुए ठीक 

बिहार में कोरोना से ठीक होने वालों मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है, राज्य में अब तक 2405 मरीज स्वस्थ्य होकर अपने घर लौट चुके है. सूबे के सभी 38 जिलों में कोरोना महामारी ने अपनी दस्तक दे दी है.

लॉकडाउन के 76वें दिन न गिरफ्तारी न एफआइआर

लॉकडाउन शुरू होने के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि इसके उल्लंघन के आरोप में राज्य में एक भी व्यक्ति की न तो गिरफ्तारी हुई है, न ही राज्य में कोई कांड दर्ज किया गया है. इससे पहले बीते मंगलवार को राज्य में एक कांड दर्ज हुआ था, लेकिन गिरफ्तार कोई नहीं हुआ था. वाहन जब्ती और जुर्माना की संख्या भी काफी कम हो गयी है. एडीजी मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने बताया कि लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने पर बीते 24 घंटे में 992 वाहनों को जब्त किया गया. 23 लाख 27 हजार 360 रुपये का जुर्माना भी वसूला गया. पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान अब तक 24 मार्च से एक जून तक 2442 लोगों को गिरफ्तार किया. 2261 कांड दर्ज किये गये. 86 हजार 113 वाहन सीज किये गये. 20 करोड़ 66 लाख, 69 हजार, 472 रुपये का जुर्माना वसूला जा चुका है.

पुलिसकर्मियों की होगा कोरोना जांच

राजधानी पटना के अलग-अलग थाना क्षेत्र व पुलिस लाइन में तैनात बीमार या स्वास्थ्य संबंधित समस्या से जूझ रहे पुलिसकर्मियों की कोरोना जांच होगी. इस संबंध में सीनियर एसपी कार्यालय को चिट्ठी लिखी गयी है. वैसे पुलिसकर्मी जो कैंसर व किडनी जैसी बीमारियों से जूझ रहे हैं, उनकी भी जांच कराने का आदेश जारी किया गया है. तत्काल कोरोना की जांच कराने को कहा गया है. सोमवार से बीमार पुलिसकर्मियों को चिह्नित कर जांच कराने का सिलसिला शुरू हो जायेगा.

पटना जिले में मिले कोरोना के चार पॉजिटिव मरीज

पटना जिले के रहने वाले चार मरीज रविवार को कोरोना पॉजिटिव मिले. इनमें से तीन पंडारक के और एक मोकामा का रहने वाला है. सूचना के मुताबिक ये सभी दूसरे राज्यों से पटना लौटे हैं और कोरेंटिन सेंटरों में रह कर अभी पिछले दिनों अपने घर गये थे. पंडारक के तीन पॉजिटिव में से एक 14 वर्ष का लड़का है, जो 14 मई काे गुजरात से आया था. यहां के शेष दो पॉजिटिव 30 वर्ष के हैं और 14 मई को मुंबई से लौटे हैं. मोकामा का रहने वाला पॉजिटिव तीन वर्ष का बच्चा है. यह 22 मई को कोलकाता से आया है. इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग के टि्वटर हैंडल से मिली जानकारी के मुताबिक पटना के पटेल नगर का 21वर्षीय युवक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.

एक लाख के करीब पहुंचा जांच का आंकड़ा

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार जांच का आंकड़ा एक लाख (99108) के करीब पहुंच गया. तीन मई के बाद राज्य में आने वाले प्रवासियों में से 3615 लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है. वहीं होम कोरेंटिन में रह रहे पांच लाख 37 हजार सात सौ 56 व्यक्तियों का सर्वेक्षण किया गया. इनमें 253 व्यक्तियों में बुखार, खांसी अथवा सांस लेने में तकलीफ की शिकायत मिली है

Share This Post