समस्तीपुर

समस्तीपुर में अपराध की साजिश विफल, हथियार समेत पांच गिरफ्तार

समस्तीपुर। कल्याणपुर थाना पुलिस ने हथियार समेत पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर अपराध की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया। गिरफ्तार आरोपितों के पास से दो देसी पिस्तौल, तीन जिदा कारतूस, चार मोबाइल, तीन बाइक बरामद हुआ है। आरोपितों ने लूटपाट की कई घटनाओं में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। सदर डीएसपी प्रितिश कुमार ने मामले का पर्दाफास किया। उन्होंने बताया कि सोमवार की रात गुप्त सूचना मिली कि लदौरा बांध के निकट हथियारबंद बदमाश अपराध की साजिश रच रहे हैं। थानाध्यक्ष ब्रजकिशोर सिंह के नेत़ृत्व में तत्काल पुलिस टीम ने उक्त स्थल पर दबिश बनाई। सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से दो देसी पिस्तौल, तीन जिदा कारतूस व बाइक व मोबाइल बरामद हुआ है। बताया कि गिरफ्तार आरोपित संगठित आपराधिक गिरोह के सदस्य हैं। इनका गिरोह कल्याणपुर, चकमेहसी और पूसा थानाक्षेत्र में सक्रिय है। ये सभी स्मॉल बैकिग समूह के ऐजेंट व सीएसपी संचालकों को टारगेट करते थे। लूटपाट की कई घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। कई घटनाओं में संलिप्ता स्वीकार की है। गिरफ्तार की पहचान चकमेहसी थाना के श्रीनाथपराण के विरेन्द्र महतो के पुत्र बिट्टू कुमार, दिनेश महतो के पुत्र राकेश कुमार, लक्ष्मी महतो के पुत्र सोनू कुमार, अरुण महतो के पुत्र दीपक कुमार और कल्याणपुर थाना के वासुदेवपुर निवासी महेश प्रसाद के पुत्र सुधांशु कुमार उर्फ विक्की के रुप में हुई है। सदर डीएसपी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों के निशानदेही पर अन्य आरोपितों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। इनके पास मोबाइल का तकनीकि विश्लेषण किया जा रहा है। जिसके आधार पर कुछ अन्य घटनाओं के भी खुलासा होने की संभावना है। मौके पर एएसपी हिमांशु, चकमेहसी थानाध्यक्ष खुशबुद्दीन, मुफस्सिल थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य मौजूद रहे। पुलिस ने दावा किया है कि इन आरोपितों ने कल्याणपुर थाना में दर्ज सीएसपी संचालक से 1 लाख 90 हजार लूट, इसी थाना में दर्ज जितवरिया गांव में कॉलेज के पास से 40 हजार की लूट समेत चकमेहसी में दर्ज एक आपराधिक मामले में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

Share This Post