समस्तीपुर

ताजपुर थाना क्षेत्र में सीएसपी संचालक की गोली मारकर हत्या



समस्तीपुर। एकाएक आपराधिक घटनाओं में तेजी आ गई है। हर एक दिन बीच में कहीं लूट तो कहीं हत्या की घटना को बेखौफ अपराधी अंजाम दे रहे हैं। इसमें सर्वाधिक शिकार या तो सीएसपी संचालक हो रहे हैं तो माइक्रो फाइनेंस कर्मी। छोटी-मोटी लूट व छिनतई की घटना तो सरेआम है। शुक्रवार को ताजपुर थाना क्षेत्र में घटी लूट व हत्या की घटना ने लोगों को सहमा दिया है। 34 वर्षीय जितेंद्र गिरि ने अभी तो अपने जीवन को जिया भी नहीं था कि उसे अपराधियों ने गोलियों का शिकार बना डाला। घटना की सूचना मिलते ही जितेंद्र की मां बदहवास होकर अस्पताल पहुंच गई। वहीं पत्नी का रोते-रोते हाल बेहाल था। तीन छोटे-छोटे बच्चे के सिर से पिता का साया एकबारगी उठ गया।

लोगों ने दिखाई साहस, पर बंदूक के आगे न चली ताकत : ताजपुर से बसही भिडी जाने वाली सड़क में कस्बे आहर बलुआही पोखर के पास जब गोलीबारी की घटना हो रही थी। इसे समझने में स्थानीय लोगों को देर लगी। जब लोगों ने कुछ समझा तबतक देर हो चुकी थी। आरंभ में लोगों ने समझा कि किसी बात को लेकर चार लोगों के बीच कहासुनी हो रही है या मामूली झंझट है। जब फायरिग की आवाज सूनी तो लोगों ने ईंट पत्थर भी बरसाए लेकिन अपराधियों का अंदाज इतना खौफनाक था कि उनलोगों ने भीड़ पर भी फायरिग शुरू कर दी। तब जाकर लोग सहम गए। इस बीच अपराधी फायरिग करते हुए निकल भागे।

घर से निकला था यह कहकर कि शाम में जल्दी घर लौट जाएंगे

जितेंद्र की मां ने रोते-रोते यह बताया कि बेटे ने शाम में जल्दी लौट आने की बात कहकर घर से निकला था। पर उन्हें क्या पता था कि उसकी जिदगी का आज आखिरी दिन होगा। सोंगर निवासी मुकेश गिरि के पुत्र जितेंद्र की जिदगी आज अपराधियों ने छीन ली। इसके साथ ही छीन गया पिता से पुत्र का साया, मां से पुत्र का प्यार। बेचारी मां तो सुधबुध खो चुकी थी। पिता तो बाहर शिक्षक हैं। वहां से आने में उन्हें वक्त भी लगेगा।

देखते ही देखते शरीर में उतार दी पांच गोलियां

प्रत्यक्षदर्शी बताते हैं कि अपराधियों ने पहले ओवरटेक करके बाइक रोकी। रुपये से भरा बैग छीनने का प्रयास किया। विरोध करने पर शरीर में दो गोली मार दी। गोली लगते ही जितेंद्र कुछ दूर भागे भी लेकिन अपराधियों ने खदेड़कर और तीन गोलियां उनके शरीर में उतार दी। इसके बाद वे वहीं गिर गए। बैग का चैन खोलकर रुपया निकाल लिया और बाइक से फायरिग करते हुए भाग निकला।

एक बाइक को चला रहा था तो दो फायरिग कर रहा था

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो एक ही बाइक पर तीनों अपराधी बैठे थे। एक बाइक चला रहा था तो पीछे बैठा दोनों युवक ताबड़तोड़ फायरिग कर रहा था। घटना को अंजाम देने के बाद भी बाइक के पीछे बैठा दोनों युवक फायरिग करते हुए भाग निकला।

पुलिस के खिलाफ कर रहे थे नारेबाजी

घटना से नाराज लोग पुलिस के खिलाफ लगातार नारेबाजी कर रहे थे। पहले ताजपुर असपताल में बवाल हुआ फिर एनएच के गांधी चौक पर टायर जलाकर आगजनी करते हुए सड़क जाम कर दिया गया। बाद में शव को अस्पताल से लाकर कोल्ड स्टोरेज चौक के पास जाम कर दिया गया। जीवन मौत से जूझ रहा है माइक्रोफानेंस कर्मी

कल्याणपुर : चकमेहसी थाना क्षेत्र के बेलसंडी पंचायत अंतर्गत बागमती बांध घोघराहा तरबन्नी के समीप गुरुवार की शाम एक बाइक पर सवार तीन की संख्या में हथियार से लैस अपराधियों ने माइक्रो फाइनेंस कंपनी के कर्मी को लूटपाट की नियत से गोली मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था। उसे गंभीरावस्था में इलाज के लिए पीएचसी में भर्ती कराया गया। जहां से डीएमसीएच रेफर कर दिया गया। अभी वह वहां भी जीवन मौत से जूझ रहा है। जख्मी की पहचान बेगूसराय जिले के बछवारा नारायणपुर गांव के सियाराम साह के 26 वर्षीय पुत्र अमित कुमार साह के रूप में हुई।

Share This Post