दरभंगा

सोना लूट में दरभंगा पुलिस व एसआइटी ने एलआइसी एजेंट समेत पांच को उठाया

दरभंगा जिला के बड़ा बाजार स्थित अलंकार ज्वेलर्स में 9 दिसंबर को हुए करोड़ों के आभूषण लूटकांड में दरभंगा पुलिस व एसटीएफ की टीम को एक बड़ी सफलता हासिल हुई है। संदिग्धों की तलाश में बीते तीन दिनों में दरभंगा पुलिस व एसआइटी टीम जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में करीब एक दर्जन से अधिक संभावित ठिकानों पर छापेमारी की। महिला समेत दर्जन भर लोगों को हिरासत में लिया। पकड़े गए संदिग्धों की निशानदेही पर एक के बाद एक पुलिस को सफलता मिलती रही। शुक्रवार देर रात दरभंगा एएसपी वैभव शर्मा के नेतृत्व में शुक्रवार देर रात तक छापेमारी की गई। बहादुरपुर वार्ड के डयोढ़ी मोहल्ला स्थित प्रोफेसर कॉलोनी में एलआइसी एजेंट विजय कुमार के घर से करीब दस लाख रुपये नकद और जितवारपुर के फरपुरा में मनोज कुमार के घर से दस लाख नकद और करीब साठ ग्राम सोना बरामद हुआ। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। पुलिस टीम ने गृहस्वामी समेत पांच संदिग्धों को हिरासत में ले लिया। इससे पूर्व पुलिस टीम कई संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर चुकी थी। इस कम में शहर के सटे बहादुरपुर मोहल्ला के डयोरी गली से सब्जी विक्रेता प्रह्लाद चौधरी उर्फ चुन्नु भगत के घर से साढ़े चार लाख नकद, बहादुरपुर मॉडल हाईस्कूल के निकट लूटकांड के शातिर प्रिस कुमार के घर से फूल के गमले में छिपाकर रखा गया ढाई किलो सोना बरामद किया। फिर उजियारपुर थाना क्षेत्र के लोहागीर में स्वर्ण कारोबारी विशु की निशानदेही पर सोनापट्टी के एके ज्वेलर्स में छापेमारी कर 60 ग्राम सोना और 50 पीस से अधिक हीरा बरामद किया। विभूतिपुर के भरपुरा में मनोज कुमार को साढ़े तीन लाख नकद समेत गिरफ्तार किया गया। दलसिंहसराय थाना के मालपुर पुरवाही पट्टी टोल में शराब धंधेबाज दिलीप महतो के घर छापेमारी की। उसके घर से पास खेतों में घंटों जेसीबी से खोदाई की गई। इस क्रम में पुलिस टीम को करीब 60 ग्राम सोना मिला। इसके अलावा मुफस्सिल थाना के जितवारपुर पंचायत के विशनपुर में अनिल दास, फरपुरा में मनोज, छतौना पंचायत के भुसारी में रवीन्द्र सहनी के घर पर भी दबिश बनाई गई। जिले के दर्जन भर से अधिक स्थानों पर छापेमारी कर पुलिस ने महिला समेत एक दर्जन से अधिक संदिग्धों को हिरासत में लिया। बतादें कि 29 दिसंबर को मुंगेर जिला में स्थानीय पुलिस के सहयोग से दलसिंहसराय अनुमंडल क्षेत्र के शातिर विकास झा को गिरफ्तारी किया था। पुलिस सूत्रों की मानें तो पुलिस सूत्रों हवाले से लूटकांड में महिला समेत दर्जनभर संदिग्धों को उठाया गया, वो किसी न किसी रुप से लूटकांड के आरोपितों के संपर्क में थे। वैज्ञानिक अनुसंधान और तकनीक के माध्यम से पुलिस संदिग्धों तक पहुंची। बता दें कि 9 दिसंबर को दरभंगा के बड़ा बाजार में दिनदहाड़े हथियारबंद बदमाशों ने अलंकार ज्वेलर्स से करोड़ों जेवरात व हीरा लूट लिया।

Share This Post