समस्तीपुर

समस्तीपुर में दूसरे प्रदेशों से आ रहे यात्री बसों के परिचालन पर रोक लगाने की मांग को लेकर किया गया प्रदर्शन

समस्तीपुर । लॉकडाउन के बीच दूसरे प्रदेशों से शहर में आ रहे बड़े यात्री वाहनों के परिचालन पर रोक लगाने की मांग को लेकर जिला मोटर व्यवसायी संघ के सदस्यों ने समाहरणालय के समक्ष बुधवार को प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि कोरोना महामारी के कारण यात्री वाहनों के परिचालन पर रोक लगा हुआ है। ऑटो रिक्शा एवं टैक्सी के परिचालन को कुछ शर्तों के साथ छुट दी गई है। सरकार के दिए निर्देशों का पालन करते हुए एक ओर जहां जिला मोटर व्यवसायी संघ ने अपने यात्री वाहनों को बंद कर रखा है। वहीं दूसरी ओर जिले में दूसरे प्रदेशों से यात्रियों को लेकर आने वाले बड़े वाहनों का धड़ल्ले से परिचालन किया जा रहा है। जिला प्रशासन से राज्य सरकार के दिए गाइडलाइन के विरुद्ध चलने वाले ऐसी बसों एवं मनमाना किराया लेकर अपनी क्षमता से अधिक बैठाने वाले वाहनों पर कार्रवाई की मांग की है। साथ ही लॉकडाउन के बीच जिले में बसों के परिचालन बंद करने तथा ऑटो चालकों के द्वारा यात्रियों से मनमाना किराया लेकर दूगुनी सवारी ढोने पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि लॉकडान के प्रारंभिक दिनों में प्रवासियों को घर घर तक पहुंचाने वाले बस मालिकों को जिला प्रशासन द्वारा अभी तक मुआवजे की भुगतान नहीं की गई है। अविलंब मुआवजे की राशि भुगतान करने की मांग की। इधर, परिवहन विभाग द्वारा एक यात्री बस के परिचालन पर जुर्माना वसूल किया गया। मौके पर जिला सचिव संजीव कुमार सुमन, अरुण राय, ललन राय, संतोष साह, सुनील राय, चंदेश्वर सिंह, शंभू तिवारी, रामकृष्ण, विनय कुमार सिंह, सोनू इमाम, मो. शकुर आदि मौजूद रहे।

Share This Post