समस्तीपुर

समस्तीपुर : इंटरमीडिएट में छात्राओं के निशुल्क नामांकन को ले किया प्रदर्शन

समस्तीपुर। एससी एसटी समेत सभी कोटि के छात्राओं को इंटर में निश्शुल्क नामांकन करने समेत नौ सूत्री मांगों को लेकर संयुक्त छात्र संघर्ष मोर्चा के बैनर तले कार्यकर्ताओं ने प्रतिरोध मार्च निकाल कर मंगलवार को विरोध प्रदर्शन प्रदर्शन किया। मार्च पटेल मैदान गोलंबर से मुख्य मार्ग होते हुए समाहरणालय के समक्ष पहुंची। यहां कार्यकर्ताओं ने हाथों में मांगों से संबंधित बैनर व पोस्टर को लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए आइसा जिला सचिव सुनील कुमार ने कहा कि सीएम की घोषणा के बावजूद इंटरमीडिएट महाविद्यालय में गरीब मजबूर एससी एसटी व सभी कोटि के छात्राओं से मनमाने तरीके से बिना रसीद लिए नामांकन शुल्क लिए जा रहे हैं। उन्होंने सरकार व जिला प्रशासन से इंटर के नामांकन में एससी एसटी व सभी कोटि की छात्राओं से नामांकन शुल्क नहीं लेने, इंटर परीक्षा फार्म भरने में रसीद के अनुसार शुल्क लेने, सत्र 2018-19 के पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति का अविलंब भुगतान करने, कन्या उत्थान योजना व बालिका प्रोत्साहन योजना की राशि का अविलंब भुगतान करने, कोरोना संकट के कारण बीएड कोर्स की शुल्क में बढोत्तरी वापस लेने, स्नातकोत्तर तक के सभी कोर्स में छात्र-छात्राओं के शुल्क माफ करने, लॉज में रहने वाले छात्र-छात्राओं को मुख्यमंत्री राहत कोष से किराया देने, मुख्यमंत्री राहत कोष से शिक्षकों को राहत कोष उपलब्ध कराने, नई शिक्षा नीति वापस लेते हुए समान स्कूल शिक्षा प्रणाली को लागू करने, जिले के सभी इंटरमीडिएट विद्यालयों में सात वर्षों से अधिक प्रधानाध्यापक व पांच वर्षों से अधिक समय से जमे हुए लिपिक का स्थानांतरण की मांग कर रहे थे। एआइएसएफ के जिला अध्यक्ष अवनीश कुमार ने कहा कि अतिशीध्र मांगें पूरी नहीं होने पर आंदोलन किया जाएगा। इसके उपरांत एक प्रतिनिधि ने जिलाधिकारी से मिलकर मांगों से संबंधित स्मार पत्र सौंपा। मौके पर एआइएसएफ के सुधीर कुमार, छात्र राजद के राजू यादव, एनरएसयूआई के जिलाध्यक्ष अभिनव आंसू, जनाधिकार पार्टी के मनीष कुमार यादव, रोशन कुमार, अविनाश कुमार, सोनू यादव, प्रिति कुमारी, मनीषा कुमारी, स्तुति सिंह, द्रखशा जवी, गुंजन कुमार, प्रेम सागर, श्वेता कुमारी, रुबी कुमारी, अनुज कुमार, मो. फरमान, जावेद, अंकित यादव, सुरेन्द्र प्रसाद सिंह आदि मौजूद रहे।

Share This Post