पटना

पटना एम्स के डॉक्टरों से अब घर बैठे ऑनलाइन करा सकेंगे इलाज, सफल हुआ इस ऐप से इलाज का ट्रायल…

पटना: एम्स पटना के साथ-साथ शहर और विभिन्न राज्यों के बेहतर डॉक्टर्स से आप अपना इलाज घर बैठे ऑनलाइन करा सकते हैं. इसके लिए आपको एप पर डॉक्टर्स सेलेक्ट करना होगा. उसके बाद दिये गये समय पर अपने नजदीकी क्लाउडस्पिटल सेंटर पर जाना होगा. इसके बाद डॉक्टर आपका इलाज करेंगे. इसका सफल ट्रायल चार सितंबर को एम्स पटना में हो गया है. अभी वर्तमान में क्लाउडस्पिटल पर पटना एम्स के डॉक्टर से इलाज करा सकते हैं.

पटना के शुभम शशांक और आदित्य पांडेय ने तैयार किया

टेली मेडिसिन को नये प्रारूप में पटना के शुभम शशांक और आदित्य पांडेय ने तैयार किया है. शुभम ने कहा कि कोविड-19 को देखते हुए और खास कर प्राइमरी हेल्थ केयर को बेहतर बनाने के लिए क्लाउडस्पिटल तैयार किया गया है. इसमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और रोबोटिक्स का इस्तेमाल किया गया है. इसे स्टार्टअप के तौर पर शुरू किया गया है. दानापुर के रहने वाले शुभम ने कहा कि शुरू से ही टेक्निकल कामों में मन लगा रहता था. मैं बीएससी की पढ़ाई कर रहा हूं. लेकिन टेक्नोलॉजी से काफी पुराना नाता है. कई प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है.

पटना एम्स के साथ हुआ है करार

लोगों को बेहतरीन हेल्‍थ केयर सेवाएं प्रदान करने के लिए क्लाउडस्पिटल के साथ पटना एम्स के कम्युनिटी आउट रिच एंड टेली मेडिसिन डिपार्टमेंट ने करार किया है. टेली मेडिसिन के हेड डॉ अनिल इस सेवा से काफी प्रभावित हैं. नवंबर में इसे सभी के लिए जारी कर दिया जायेगा. इसमें और भी अधिक अच्छे डॉक्टरों को जोड़ने की प्रक्रिया जारी है. नवंबर से ही क्लाउडस्पिटल एप पर जाकर ऑनलाइन डॉक्टर्स से आप समय ले सकते हैं.

बीपी, हार्ट बीट के साथ अन्य जरूरी जानकारी तुरंत मिलेगी

ऑनलाइन के माध्‍यम से वीडियो कॉल पर डॉक्‍टर उपलब्‍ध होंगे. डॉक्टर वहां से मरीज को देखेंगे. मरीज ही क्लाउडस्पिटल सेंटर पर मौजूद स्टेथोस्कोप को खुद से लगायेंगे और स्टेथोस्कोप का रिजल्ट डॉक्टर के पास शो करेगा. दिव्यांग के लिए वहां पर विशेष सुविधाएं दी गयी हैं. दिव्यांग के लिए रोबोटिक्स स्टेथोस्कोप काम करेगा. क्लाउडस्पिटल सेंटर पर पेशेंट का हार्ट बीट, बीपी, शरीर का तापमान, वजन, डीएमआइ, बॉडी मास इंडेक्स, फैट प्रतिशत, मेटाबॉलिक एज आदि की जानकारी मशीन से ही डॉक्टर के पास चली जायेगी.

दवाओं की लिस्ट व इलाज का विवरण भी डॉक्टर से मिलेगा

इसके साथ ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के माध्यम से टेली मेडिसिन के लिए सरकार द्वारा तय दवाओं की लिस्ट भी डॉक्टर के पास शो करेगी. डॉक्टर उसे लिखेंगे. डॉक्टर के इलाज का विवरण पेशेंट के मोबाइल और इमेल आइडी पर चला जायेगा. यहां पर शीर्ष स्‍तर के हृदय रोग विशेषज्ञों, कैंसर विशेषज्ञों, स्‍त्री रोग विशेषज्ञों, जेनरल फिजिसियन के साथ अन्य विशेषज्ञों से सलाह लेने की सुविधा मिलेगी. इसके साथ फिजियोथेरेपी की सुविधाएं भी मिलेगी. वजन कम करने, भोजन के चार्ट के साथ हेल्थ संबंधित सभी जानकारियां यहां मिल जायेंगी.

कम खर्च में होगा बेहतर इलाज

शशांक ने कहा कि यह एक अच्छी शुरुआत है. कम खर्च में बेहतर डॉक्टर से तुरंत इलाज यहां करा सकते हैं. इसके लिए लोगों को बड़े-बड़े शहरों का चक्कर नहीं काटना होगा. तय समय पर आपको सेंटर पर जाना होगा. उसी समय में डॉक्टर आपसे ऑनलाइन जुड़ेंगे. आज गांव-गांव में बेहतर इंटरनेट की सुविधा है. इसका फायदा प्राइमरी हेल्थ केयर को भी मिलेगा. इसके लिए पूरे इंडिया से बेहतर डॉक्टर को जोड़ा जा रहा है. सेंटर पर वेंडिंग मशीन, फिजियोथेरेपी सेक्शन भी होंगे. इसे लगाने के लिए कोई भी सोसाइटी संपर्क कर सकती है. पटना में पहला सेटअप आनंद विला सोसाइटी सगुना मोड़ में लगेगा.

Share This Post
Kunal Raj
Editor-In-Chief l Software Engineer l Digital Marketer