आम मुद्दे

क्या कोविड-19 का आपके हार्ट पर होता है असर? जानिए क्या है रिपोर्ट

नाइजीरियाई-अमेरिकी बास्केटबॉल खिलाड़ी माइकल ओजो कोरोना पॉजीटिव पाए गए थे। लेकिन बाद में रिकवर हो गए थे लेकिन इसके बाद ट्रेनिंग के दौरान उन्हें हार्ट अटैक आया और उनकी मौत हो गई। ओजो 27 साल के थे और उन्हें पहले कोई दिल की बीमारी नहीं थी। ऐसे उदाहरणों से ये सवाल उठता है कि क्या कोरोना व्यक्ति के दिल को प्रभावित करता है? इस मामले पर प्रकाश डालते हुए अमेरिकन कार्डियोलॉजिस्ट एरिक टोपोल ने एक पेपल लिखा जिसमें दावा किया गया कि कार्डियक जटिलताएं उन मामलों में भी हुई हैं। जहां कोरोना के लक्षण बहुत कम थे या बिल्कुल भी नहीं थे।

पेपर में लिखा है कि सबसे हालिया कोरोना वायरस तीव्र श्वसन सिंड्रोम कोरोना वायरस 2 (SARS-CoV-2), ने हृदय के लिए ट्रोपिज्म को चिह्नित किया है और इससे मायोकार्डिटिस (हृदय की सूजन) देखी गई जिससे दिल का दौरा पड़ता है। इस तरह ही दिक्कतें कोरोना वायरस के उन मरीजों को भी होती हैं। जिनमें कम लक्षण होते हैं या बिल्कुल भी लक्षण नहीं होते हैं। हाल की खोज में नौजवान एथलीट्स की में दिल से सबंधित रोग बताए है जिसमें अचानक मौत ने हमारे ज्ञान की वर्तमान सीमाओं और संभावित रूप से कोविड-19 के जोखिम को अभिव्यक्त करते हुए चिंता बढ़ाई है। पेपर में बताया गया है कि कोरोना के वो मरीज जो बिना लक्षणों के बीमारी का सामना कर रहे थे ।उन लोगों का पर्याप्त अनुपात भी इसमें मौजूद है।

विशिष्ट लक्षणों में थकान, सांस लेने में कठिनाई, सीने में दर्द और असामान्य हृदय गति शामिल हैं।पेपर में कहा गया है कि जो लोग कुछ महीने इस बीमारी में बिता लेते हैं उनमें मुख्य रूप से दिल से संबंधित परेशानी दिखती है। स्पष्ट रूप से, यह प्रत्याशित की तुलना में अधिक सामान्य है, लेकिन इसके पीछे का असली कारण अभी अज्ञात है।

Share This Post
Kunal Raj
Editor-In-Chief l Software Engineer l Digital Marketer