Gupteshwar Pandey
बिहार

जेडीयू मुख्यालय में सीएम नीतीश से मुलाकात के बाद गुप्तेश्वर पांडेय ने दिया ये बड़ा बयान

इसी सप्ताह डीजीपी के पद से ऐच्छिक सेवानिवृत्ति लेने वाले गुप्तेश्वर पांडेय ने शीघ्र ही जदयू के साथ अपनी सियासी पारी आरंभ करने के संकेत दिए। पूर्व डीजीपी ने जदयू कार्यालय पहुंचकर मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार से मुलाकात की। 

पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय शनिवार की दोपहर करीब दस मिनट तक जदयू कार्यालय में रहे। नीतीश कुमार से मुलाकात कर लौटते समय उन्होंने पत्रकारों से संक्षिप्त बातचीत में कहा कि यह एक शिष्टाचार मुलाकात थी। 

यह पूछे जाने पर कि क्या वह जदयू में शामिल हो रहे हैं, गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि अभी वह किसी भी दल में शामिल नहीं हो रहे हैं। मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को धन्यवाद देने आया था। डीजीपी के पद पर रहते हुए उन्होंने मुझे खुलकर काम करने का मौका दिया, जिसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं। उन्होंने कहा कि चुनाव लड़ने के बारे में कोई फैसला नहीं लिया है। 

बता दें कि शुक्रवार को गुप्तेश्वर पांडेय ने एनडीए के साथ जाने के स्पष्ट संकेत दिए थे। उन्होनें सीएम नीतीश कुमार की जमकर तारीफ की और कहा कि ‘नीतीश इज द बेस्ट सीएम’। गुप्तेश्वर पांडेय ने नीतीश सरकार की शराबबंदी से लेकर बिजली, सड़क और विकास के तमाम काम की खुलकर प्रशंसा की। गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने भविष्य की योजनाओं का खुलासा करते हुए कहा कि उनके समर्थकों की प्रबल इच्छा है कि वे राजनीति में अपनी नयी पारी की शुरुआत करें।

बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन्हें बिहार के डीजीपी के तौर पर खुलकर काम करने का मौका दिया। मुख्यमंत्री ने उन्हें योग्य समझा तभी तो बिहार की 12 करोड़ की जनता की सेवा का मौका दिया। 

पूर्व डीजीपी ने नीतीश कुमार के सुशासन की जमकर तारीफ की। कोरोना संकट के दौरान सरकार के काम-काज की चर्चा करते हुए कहा कि इस दौर में बिहार सरकार ने बेहतरीन काम किया। इस दौरान पुलिस विभाग को काम करने की पूरी आजादी दी गयी। पुलिस भी सरकार के भरोसे पर खरी उतरी और कोरोना कंट्रोल में बड़ी भूमिका अदा की। सरकार की स्पष्ट नीतियों के चलते यह संभव हो सका।

Share This Post
Kunal Raj
Editor-In-Chief l Software Engineer l Digital Marketer