बिहार विधानसभा चुनाव 2020 समस्तीपुर

एनडीए में समस्तीपुर से किसको मिली कितनी सीटें ? देखिये पूरी लिस्ट

एनडीए में सीट बंटवारे के बाद समस्तीपुर में जनता दल यूनाइटेड के पाले में कुल 7 सीटें आई हैं, जिनमें से कल्याणपुर, वारिसनगर, मोरवा, सरायरंजन, हसनपुर, समस्तीपुर, और विभूतिपुर है. वहीं भाजपा 3 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी जो है मोहिउद्दीन नगर, रोसड़ा, उजियारपुर . उम्मीदवारों की घोषणा फिलहाल नहीं की गयी है ।

समस्तीपुर विधानसभा 133 में पिछले 2 बार से ये सीट जदयू की पकड़ से दूर रही है. 2010 में राजद से अख्तारुल इस्लाम शाहीन ने जदयू के रामनाथ ठाकुर को बेहद करीबी मुकाबले में 1827 वोटों से हराया. इसके बाद 2015 में अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने बीजेपी की रेनू कुमारी को बड़े अंतर से मात दी. राजद की तरफ से मौजूदा विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहिन का लड़ना तय माना जा रहा है, वहीं जदयू से यहां कई बार विधायक रामनाथ ठाकुर चूंकि अब राज्यसभा सांसद हैं, ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि प्रत्याशी कौन होगा ?



आबादी और मतदाता

समस्तीपुर विधानसभा क्षेत्र में 2011 की जनगणना के अनुसार 3,96,984 की कुल आबादी है. इसमें करीब 80 प्रतिशत लोग गांवों में रहते हैं. इस आबादी में 18.63 प्रतिशत अनुसूचित जाति के हैं. 2019 लोकसभा चुनावों को आधार मानें तो यहां 2,64,542 मतदाता हैं और चुनाव आयोग ने यहां 269 पोलिंग स्टान बनाए थे. उस चुनाव में यहां 62.41 प्रतिशत मतदान हुआ था. वहीं विधानसभा चुनावों में भी यहां की जनता काफी रुचि लेती रही है, यही कारण है कि 2015 के विधानसभा चुनावों में मतदान का प्रतिशत करीब 61.3 रहा. लोजपा के रामचंद्र पासवान यहां से सांसद हैं, जबकि राजद से अख्तरूल इस्लाम शाहीन विधायक हैं.
लोकसभा उपचुनाव में दिखा करीबी मुकाबला

वहीं हाल में हुए लोकसभा उपचुनाव में एनडीए की तरफ से प्रिंस राज को राजद-कांग्रेस गठबंधन के डॉ अशोक कुमार से केवल 3000 वोटों की बढ़त मिली थी. ये विधानसभा सीट मुस्लिम और यादव बाहुल्य है, वहीं एससी-एसटी की संख्या भी निर्णायक है. समस्तीपुर विधानसभा में समस्तीपुर नगर पालिका क्षेत्र है, इसके अलावा शाहपुर बघुनी, भरोख्रा, ताजपुर, अधारपुर और बगही ग्राम पंचायत आता है.

समस्तीपुर से विधायक

2015- राजद के अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने बीजेपी की रेनू कुमारी को हराया

2010- राजद के अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने जदयू के रामनाथ ठाकुर को हराया

2005 (अक्टूबर)- जदयू के रामनाथ ठाकुर ने राजद के निजाम अहमद को हराया

2005 (फरवरी)- जदयू के रामनाथ ठाकुर ने राजद के शाहिद अहमद को हराया

2000- जदयू के रामनाथ ठाकुर ने राजद के अशोक सिंह को हराया

1995- जनता दल के अशोक सिंह ने बीपीपी के शाहिद हुसैन को हराया

1990- जनता दल के अशोक सिंह ने कांग्रेस के विश्वेश्वर राय को हराया

1985- लोकदल से अशोक सिंह ने कांग्रेस के जय नारायण राय को हराया

1980- जनता पार्टी (सेक्युलर) से कर्पूरी ठाकुर ने चंद्रशेखर वर्मा को हराया

1977- जनता पार्टी से चंद्रशेखर सिंह ने कांग्रेस के रामचंद्र राय को हराया

1972- एनसीओ से सहदेव महतो

1969- एसएसपी से राजेंद्र नारायण शर्मा

1967- एसएसपी से राजेंद्र नारनायण शर्मा

1951- कांग्रेस से यदुनंदन सहाय

1951- कांग्रेस से सुंदर महतो

Share This Post