Driving License
बिहार

बिहार: लापरवाही से गाड़ी चलाई व यातायात नियम तोड़ा तो लाइसेंस होगा निलंबित

लापरवाह वाहन चालकों के लिए बुरी खबर है। यातायात नियम तोड़ने पर सिर्फ जुर्माना ही नहीं देना होगा। पुलिस वैसे चालकों पर शिकंजा कस रही है जो नियम तोड़ने से नहीं हिचकिचाते। जुर्माना तो लगेगा ही वाहन चलाने का लाइसेंस भी निलंबित होगा। इसके बाद भी नियम तोड़ते पकड़े गए तो लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई होगी।

लालबत्ती पार करने पर 22 के खिलाफ कार्रवाई
बिहार पुलिस ने जनवरी से सितम्बर के बीच यातायात नियमों को तोड़नेवाले 500 चालकों के लाइसेंस को रद्द करने की अनुशंसा परिवहन विभाग से गई है। इनमें 333 चालक ऐसे हैं जिनकी लापरवाही से गंभीर दुर्घटनाएं हुईं। पुलिस मुख्यालय के आंकड़े बताते हैं कि 104 वाहन चालकों पर ओवर स्पीडिंग के चलते यह कार्रवाई की गई। नशे का सेवन कर वाहन चलाने वाले 27 चालकों के लाइसेंस भी निलंबित करने को लिखा गया है। 22 वाहन चालक ऐसे हैं जिन्होंने लालबत्ती को जंप किया और नियमों की अनदेखी की। मोबाइल पर बात करते हुए गाड़ी चलानेवाले 2 चालकों के लाइसेंस निलंबित करने की अनुशंसा भी इसमें शामिल है। इनमें कई चालकों के लाइसेंस निलंबित भी किए जा चुके हैं।

हेलमेट नहीं पहननेवालों पर सबसे ज्यादा जुर्माना
नियमों की अनदेखी कर वाहन चलानेवालों के खिलाफ पुलिस सख्ती से पेश आ रही है। साल के शुरुआती 9 महीने में पुलिस ने नियम तोड़नेवाले चालकों से 50 करोड़ से अधिक जुर्माना वसूला है। सबसे अधिक हेलमेट नहीं पहनने पर 27. 24 करोड़ रुपए फाइन किया गया। बगैर सीट बेल्ट वाहन चलाने वालों से 5.11 करोड़ जबकि वाहन चलाते वक्त मोबाइल पर बात करते हुए पकड़े गए लोगों से करीब 34 लाख रुपए बतौर जुर्माना वसूल किए गए। 5.76 लाख की जुर्माना राशि नाबालिग द्वारा वाहन चलाने के मामले में वसूला गया। वहीं ट्रैफिक के अन्य नियमों का उल्लंघन करनेवाले से 17.79 करोड़ की राशि वसूली गई। इसमें ओवर लोडिंग का फाइन शामिल नहीं है क्योंकि इस आरोप में फाइन करने का अधिकार पुलिस को नहीं है।

Share This Post