Patna Bus Terminal
पटना

पटना में इंटरनेशनल बस स्टैंड बनकर तैयार, शॉपिंग और मनोरंजन के भी इंतजाम, शहर में नहीं आएंगी बसें

नए साल में मीठापुर बस पड़ाव को नए बस पड़ाव में शिफ्ट करने का कार्य पूरा होगा। इससे मीठापुर से लेकर जीरो माइल के बीच न्यू बाइपास रोड पर लगने वाले जाम के संकट से लोगों को निजात मिल जाएगी। बैरिया से गाड़ी खुलने पर दक्षिण बिहार की तरफ जाने वाली गाड़ियों को शहर की तरफ नहीं आना पड़ेगा। उत्तर बिहार की तरफ आने वाली गाड़ियां वाहनों के कम दबाव की स्थिति में जल्दी से गांधी सेतु पुल तक पहुंच सकेंगी और इससे लोगों को जाममुक्त यात्रा का लाभ मिल सकेगा।

राजधानी में अत्याधुनिक बस स्टैंड से यात्रा का लाभ नए साल में लोगों को मिलेगा। अंतरराज्यीय बस पड़ाव का निर्माण बैरिया में कराया जा चुका है। इस बस स्टैंड से जुड़ने वाली आठ लेन की हाइवे में से पांच लेन के निर्माण का कार्य जल्द ही पूरा होने वाला है। इसके बाद मीठापुर से नए बस स्टैंड में वाहनों को शिफ्ट करने की कार्रवाई शुरू होगी। बस टर्मिनल का निर्माण कार्य वर्ष 2017 में शुरू हुआ था। यहां चार ब्लॉक बनाए गए हैं। ब्लॉक ए, बी व सी सात मंजिला और डी ब्लॉक आठ मंजिलों का है। 302 करोड़ की लागत से बने इस आईएसबीटी में बसों के परिचालन शुरू किए जाने पर सरकार की ओर से गठित आईएसबीटी संचालन समिति की ओर से किया जाएगा।

अभी इस बस स्टैंड में ब्लॉक डी का काम चल रहा है। इसमें यात्री सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए कई निर्माण कराए जा रहे हैं। यह कमर्शियल कंपलेक्स होगा। इसमें यात्री के खाने पीने को ध्यान में रखते हुए रेस्टोरेंट्स, छोटी मोटी कई दुकानों का प्रावधान किया गया है। साथ ही, यात्रियों के मनोरंजन के लिए मल्टीप्लेक्स का निर्माण कराया जा रहा है।

Share This Post