Mukesh Ambani and Zog shanshan
बिज़नेस

मुकेश अंबानी से जुंग शानशान ने फिर छीना एशिया के सबसे बड़े रईस का ताज

रिलायंस  इंडस्ट्रीज के चेयरमन मुकेश अंबानी एक बार फिर एशिया सबसे बड़े रईस नहीं रहे। बोतलबंद पानी और वैक्सीन बनाने वाली चीनी कंपनी के मालिक जुंग शानशान भारतीय उद्योगपति मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ते हुए एशिया के सबसे धनी व्यक्ति बन गए हैं। इतना ही नहीं अब शानशान दुनिया के टॉप 10 अमीरों की लिस्ट में छठे नंबर पर पहुंच गए हैं। एक दिन में उनकी संपत्ति में 5 अरब डॉलर से भी अधिक का इजाफा हुआ है।  उनकी रफ्तार अगर ऐसी ही रही तो फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग भी उनसे पीछे छूट जाएंगे। उधर एलन मस्क दूसरे नंबर पर हैं और दुनिया के सबसे बड़े रईस अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस का ताज छीनने के करीब पहुंच रहे हैं।  

दुनिया के टॉप-10 अमीरों की ताजा लिस्ट

रैंकिंगरईसनेटवर्थ (अरब डॉलर में)
1जेफ बेजोस187.6
3एलन मस्क161.4
2बर्नार्ड अर्नाट एंड फैमिली150.1
4बिलगेट्स119.8
5मार्क जुकरबर्ग99.5
7जुंग शानशान91.9
6लैरी एलिशन86.8
8वॉरेन बफेट86
9वॉरेन बफेट86
10लैरी पेज76.7
14मुकेश अंबानी74.8

बता दें मुकेश अंबानी को साल जाते-जाते दूसरा झटका दे गया । पहले दुनिया के शीर्ष 10 अमीरों की सूची से बाहर हुए और एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति होने का खिताब भी हाथ से निकला गया है। हालांकि जनवरी में ही चीन के जुंग शानशान से उन्होंने अपना ताज वापस पा लिया था पर एक बार फिर यह ताज उनसे छिन गया है।  फोर्ब्स ​के रियल-टाइम बिलियनेयर रैंकिंग्स के मुताबिक शानशान 14वें से अब 6वें स्थान पर पहुंच गए है, जबकि अंबानी 10वें पायदान पर हैं। बता दें कि फोर्ब्स ​के रियल-टाइम बिलियनेयर रैंकिंग्स से हर रोज पब्लिक होल्डिंग्स में होने वाले उतार-चढ़ाव के बारे में जानकारी मिलती है। दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में शेयर बाजार खुलने के बाद हर 5 मिनट में यह इंडेक्स अपडेट होता है. जिन व्यक्तियों की संपत्ति किसी प्राइवेट कंपनी से संबंधित है, उनका नेटवर्थ दिन में एक बार अपडेट होता है। 

एक साल में सात अरब डॉलर बढ़ी सम्पत्ति

ब्लूमबर्ग की सूची के मुताबिक, साल 2020 में जांग शानशान की सपत्ति में सात अरब डॉलर की बढ़ोतरी हुई है, जिसके चलते उनकी कुल संपत्ति बढ़कर 77.8 अरब डॉलर हो गई है। इस बढ़ोतरी ने उन्हें एशिया का सबसे अमीर शख्स बना दिया है। वहीं, मुकेश अंबानी की संपत्ति 76 अरब डॉलर है। वहीं दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में उनका नंबर 11वां हो गया है। जिस तेजी से उनकी सम्पत्ति बढ़ी है वह इतिहास में सबसे तेज है। यही नहीं एक साल पहले चीन के बाहर उनका कोई नाम नहीं जानता था लेकिन आज उन्होंने अमीरों के क्लब में अपना झंडा गाड़ दिया है।

शेयर बाजार में सूचीबद्ध होते बदली किस्मत

शेयर बाजार में जांग की कंपनियां सूचीबद्ध होते ही उनकी किस्मत बदल गई है। शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने के बाद से अब तक नॉन्गफू स्प्रिंग की कीमत में 155 प्रतिशत का उछाल आया है जबकि वांटई बॉयोलॉजिकल के शेयरों में 2000 प्रतिशत की भारी बढ़त देखी गई। ब्लूमबर्ग ने उन्हें दुनिया में सबसे तेजी से अपनी संम्पत्ति में इजाफा करने वाली सूची में भी जगह दी है।

अमीरी के पीछे कोरोना भी वजह

वैसे ये बात भी चौंकाने वाली है कि जांग शानशान के आगे निकलने के पीछे कोरोना भी बड़ी वजह है। उनकी कंपनी वांटई बॉयोलॉजिकल कोरोना की वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों में शामिल है। कंपनी के शेयरों में उछाल की ये भी एक बड़ी वजह है। इस सप्ताह जांग की कंपनी नोंगफू के शेयर चरम पर पहुंच गए जब सिटी बैंक के विश्लेषकों ने कहा कि कंपनी ने बाजार का अपना प्रभुत्व मजबूत किया है और नकदी का प्रवाह बना हुआ है। जांग शानशान के अमीरों की लिस्ट में आगे निकलने की एक वजह चीन की दिग्गज टेक कम्पनियों पर सरकार की बढ़ती निगरानी भी है जिसके चलते इन कम्पनियों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है।

Share This Post