बिहार

Good News सहरसा समेत बिहार के पांच प्रमंडल में बनेंगे किलकारी बाल भवन, इन विद्याओं की मिलेगी ट्रेनिंग

अब निजी स्कूल के तर्ज पर सरकारी विद्यालयों पढ़ने वाले को उसकी रुचि के मुताबिक प्रशिक्षण मिलेगा। पहले चरण में चार प्रमंडल पटना, दरभंगा, भागलपुर व गया के बाद अब बचे प्रमंडल में भी किलकारी बाल भवन बनाया जाएगा। इसी योजना के तहत कोसी प्रमंडल के सहरसा जिला में बाल किलकारी भवन बनाने की योजना है। जिसके लिए जिला शिक्षा विभाग ने चार विद्यालयों की जमीन को चिह्नित करते प्रस्ताव भेजा।जिसकी पटना से आई टीम ने जांच शुरु कर दी है। 

पटना बाल किलकारी भवन की कॉर्डिनेटर संगीता दत्त ने बताया कि सभी प्रमंडलीय मुख्यालय के आसपास बाल किलकारी भवन बनना है। जिसके लिए संबंधित डीईओ से प्रस्ताव मांगा गया था। हालांकि पूर्णिया व मुंगेर द्वारा अभी तक प्रस्ताव नहीं भेजा गया। सहरसा ने चार स्कूलों में जमीन होने की जानकारी देते किलकारी बाल भवन स्थापना में रुचि दिखाई। जिसमें से पतरघट के पिपरा, पस्तपार, कहरा प्रखंड के परमीनिया व नवहट्टा के शाहपुर में जमीन का निरीक्षण किया जा रहा है। हालांकि प्रमंडलीय मुख्यालय नजदीक के स्कूल में जमीन रहने पर प्राथमिकता दी जाएगी। सहरसा डीईओ को इस संबंध में जिलाधिकारी से बात कर स्कूल की जमीन चिह्नित करने को कहा गया है। 

बच्चों को रुचि के मुताबिक प्रशिक्षण
बाल किलकारी भवन बनने के बाद बच्चों को उसकी रुचि के मुताबिक प्रशिक्षण मिलेगा। 8 से 16 वर्ष के बच्चे इसमें भाग ले सकते हैं। किलकारी बाल भवन में ड्रामा, नृत्य, संगीत सहित सभी विधाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा।इसमें पढ़ाई करने के बाद भाग ले सकते हैं। 

निदेशक के निर्देश पर चार स्कूलों के पास बाल भवन बनाने के लिए प्रस्ताव दिया गया है। पटना से आई टीम द्वारा उसका निरीक्षण किया जा रहा है। – जयशंकर प्रसाद ठाकुर, डीईओ 

Share This Post