Tejasvi yadav
बिहार विधानसभा चुनाव 2020

जानिए भाजपा के 19 लाख रोजगार केे दावे पर तेजस्‍वी ने क्‍या कहा

बिहार चुनाव में अब रोजगार बनाम सरकारी नौकरी की जंग छिड़ गई है। राजद के 10 लाख सरकारी नौकरियों के वादे के जवाब में भाजपा के 19 लाख लोगों रोजगार के दावे पर सियासत गर्मा गई है। गुरुवार को भाजपा के संकल्‍प पत्र में 19 लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा किया गया है। इस पर तंज कसते हुए महागठबंधन की ओर से मुख्‍यमंत्री पद के दावेदार तेजस्‍वी यादव ने कहा कि सरकारी नौकरी और रोजगार में फर्क होता है। भाजपा जो कह रही है वो तो पकौड़ा बेचना भी हुआ। 

तेजस्‍वी ने कहा कि भाजपा कह रही है कि वह कोशिश करेगी जबकि हम समय बता रहे हैं। सरकार बनने के बाद पहली कैबिनेट बैठक में यदि मेरी कलम चलेगी तो 10 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी के फैसले पर दस्‍तखत के लिए चलेगी। तेजस्‍वी ने कहा कि भाजपा ने पहले दो करोड़ रोजगार का वादा किया था। सबने देख लिया कि उस वादे का क्‍या हुआ। यह वही पार्टी है जिसने बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा दिलाने का वादा किया था। स्‍पेशल पैकेज का वादा किया था। अभी 18 जिलों में बाढ़ आई तो ये लोग कहां थे। 
तेजस्‍वी ने कहा कि भाजपा रोजगार के लिए प्रयास करने की बात कह रही है जबकि हम साफ तौर पर समय बताकर सरकारी नौकरी देने की। 

तेजस्‍वी बोले-बिहार में भाजपा के पास कोई चेेेेहरा नहीं

इसके पहले तेजस्‍वी ने भाजपा पर यह कहकर प्रहार किया कि बिहार में उसके पास कोई चेहरा नहीं इसलिए संकल्‍प पत्र जारी करने के लिए वित्‍त मंत्री को आना पड़ा। उन्‍होंने कहा कि  वित्त मंत्री को पहले यह बताना चाहिए कि उन्होंने बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं दिया? 

बेरोजगारी बड़ा मुद्दा, जानिए किस पार्टी ने किया है क्‍या वादा 
बिहार के चुनाव में बेरोजगारी बड़ा मुद्दा बन गई है। हर पार्टी अपने-अपने ढंग से इस मुद्दे पर वादे कर नौजवानों को लुभाने का प्रयास कर रही है। राजद और कांग्रेस पार्टी ने जहां बिहार के 10-10 लाख युवाओं को नौकरी देने का वादा किया है वहीं, भाजपा ने 19 लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा किया।

गुरुवार को केन्द्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज पटना में भाजपा के ‘5 सूत्र, एक लक्ष्य, 11 संकल्प’ के विजन डाक्‍यूमेंट को जारी किया। इस घोषणा पत्र में बीजेपी ने 19 लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा किया है। बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि एक हजार नए किसान उत्पाद संघों को आपस में जोड़कर राज्यभर के विशेष सफल उत्पाद, (जैसे- मक्का, फल, सब्जी, चूड़ा, मखाना, पान, मशाला, शहद, मेंथा, औषधीय पौधों के लिए सप्लाई चेन विकसित करेंगे) और 10 लाख रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।

इससे पहले कांग्रेस ने बुधवार को बिहार चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र जारी किया। कांग्रेस के इस घोषणा पत्र में 10 लाख युवाओं को रोजगार और जिन लोगों को रोजगार नहीं मिलेगा, उन्हें 1500 रुपये मासिक दिए जाएंगे की बात लिखी है। वहीं, राजद नेता तेजस्वी यादव ने अपना मेनीफेस्टो जारी करते हुए कहा कि हमने संकल्प लिया है कि हमारी सरकार बनते ही पहली कैबिनेट में युवाओं को 10 लाख रोजगार देने पर मुहर लगेगी।

Share This Post