राष्ट्रीय

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते 25 सितंबर से फिर से लगने जा रहा लॉकडाउन? जानें क्या है सच्चाई

देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। रोजाना 90 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच, सोशल मीडिया पर एक लेटर वायरल हो रहा है कि 25 सितंबर से एक बार फिर से लॉकडाउन लगने जा रहा है। इसको लेकर केंद्र सरकार ने फैक्ट चैक करते हुए सही जानकारी दी है। सरकार ने 25 सितंबर से लॉकडाउन लगने की खबर को गलत बताया है।

इन दिनों सोशल मीडिया पर नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (एनडीएमए) के नाम से एक सर्कुलर वायरल हो रहा है। इसमें बताया गया है कि एक बार फिर से 25 सितंबर से लॉकडाउन लगेगा। वायरल हो रहे लेटर में लिखा है, ‘देश में कोरोना वायरस के मामलों को फैलने से रोकने और मृत्युदर को कम करने के लिए, योजना आयोग के साथ एनडीएमए भारत सरकार से आग्रह करता है और पीएमओ व गृह मंत्रालय को निर्देश देता है कि 25 सितंबर की आधी रात से 46 दिनों को देशव्यापी लॉकडाउन लागू किया जाए। देश में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला को बनाए रखने के लिए एनडीएमए मंत्रालय को सूचना जारी कर रहा है।’

प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (पीआईबी) ने ट्वीट करके लेटर को फेक बताया है। पीआईबी ने लिखा, ‘यह लेटर फेक है। एनडीएमए ने फिर से लॉकडाउन लागू करने के लिए कोई ऑर्डर नहीं जारी किया है।

गौरतलब है कि भारत में मार्च के अंत में देशव्यापी लॉकडाउन लगाया गया था। सरकार ने कोरोना वायरस के मामलों की रोकथाम के लिए लॉकडाउन लागू किया था। इसके बाद जून से कई फेज में लॉकडाउन को फिर से खोला गया। हालांकि, स्कूल-कॉलेज अभी भी बंद हैं, जबकि मार्च महीने से बंद मेट्रो को एक हफ्ते पहले चलाने की हरी झंडी दी गई थी।

Share This Post