Railways /samachar9
बिहार

बिहार: अनलॉक होते ही शुरू हुआ मजदूरों का पलायन, स्टेशनों पर उमड़ रही भीड़, कहा- जाएंगे नहीं….

अनलॉक होते ही फिर से मजदूरों का पलायन शुरू हो गया है। इससे दिल्ली, मुंबई, पंजाब की ओर जाने वाली ट्रेनों में मजदूरों की भीड़ उमड़ने लगी है। लेकिन कंफर्म टिकट नहीं होने के कारण इन मजदूरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। बता दें कि कोरोना काल में कोरोना कहर के बाद फैक्ट्री बंद होने एवं परदेशों में व्यवसाय प्रभावित होने के मजदूर अपने-अपने घर लौट गए थे, लेकिन अब अनलॉक होने की सूचना के बाद लौटने के लिए मजदूरों की भीड़ स्टेशन पर उमड़ने लगी है। 

कोरोना काल में पेट की मजबूरी मजदूर यात्रियों को पलायन के लिए मजबूर कर रही है। रोजगार की तलाश में बड़ी संख्या में मजदूर यात्री पंजाब, हरियाणा और दिल्ली प्रदेश का रुख करने लगे हैं। मजदूर यात्रियों की वजह से लंबी दूरी की ट्रेनों में सीट के लिए मारामारी शुरू हो गई है। समस्तीपुर मंडल के मिथिलांचल, कोसी क्षेत्र हो या पूरे उत्तर बिहार हर जगहों से मजदूरों का पलायन होने लगा है। ट्रेन के अलावा बसों से भी मजदूर यात्री दूसरे परदेश को जा रहे हैं। 

मजदूर यात्रियों का कहना है कि अगर कमाने के लिए दूसरे राज्य नहीं जाएंगे तो यहां खाएंगे क्या। मंगलवार को वैशाली स्पेशल एक्सप्रेस से दिल्ली जा रहे मजदूर यात्री विनोद कामती ने कहा कि धान रोपनी के लिए लुधियाना जा रहे हैं। वहां ठीक ठाक कमाई के साथ बचत भी कर लेंगे। यहां घर पर रहने के बाद रोजगार नहीं मिलने के कारण खाने की बन आई थी। वहीं दरभंगा के ठीठर मंडल, सरयू, नीरज आदि ने बताया कि महाराष्ट्र की कंपनी से फोन आया था। पेट की आग शांत करने के लिए फिर से जाना मजबूरी है। टिकट का पैसा खाते में भेज दिया गया था।

Share This Post