समस्तीपुर

योजना एवं विकास मंत्री महेश्वर हजारी : राज्य सरकार बाढ़ पीड़ितों की सुविधा के लिए तत्पर

समस्तीपुर । योजना एवं विकास मंत्री महेश्वर हजारी ने शनिवार को कल्याणपुर प्रखंड के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर सरकारी सुविधाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार पीड़ितों के लिए चितित है। उन्हें हर संभव सहायता दी जाएगी। किसी को कोई परेशानी हो तो वे अपनी बात सीधी तौर पर रख सकते हैं। रामापुर बांध पर चल रहे स्वास्थ्य शिविर के चिकित्सक डॉ. अनिल कुमार, सामूहिक किचन के नोडल पदाधिकारी सुशील कुमार सिंह से मिलने वाली सुविधाओं से अवगत हुए । चार दिनों पूर्व हाई वोल्टेज तार में टकराने से दो मृतक के स्वजनों को ?420000 का चेक भी दिया। साथ ही कमरगामा छक्कन टोली में बाढ़ से मृतक के स्वजनों को आपदा विभाग द्वारा मिलने वाली अनुग्रह राशि का चेक प्रदान किया । मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी अशोक मंडल, चकमेहसी थानाध्यक्ष खुशबूउद्दीन, कल्याणपुर थाना अध्यक्ष ब्रज किशोर सिंह भी मौजूद रहे। अंचलाधिकारी अभय पद दास, प्रखंड विकास पदाधिकारी धर्मवीर कुमार प्रभाकर, उप प्रमुख राजेश कुमार, ओम विकास यादव, मुखिया राम विनोद ठाकुर, विधायक प्रतिनिधि राजकुमार सिंह आदि मौजूद रहे। इस दौरान लोगों ने प्रशासन द्वारा दिये गए पन्नी की गुणवत्ता की जांच की मांग तथा पर्याप्त मात्रा में नाव की मांग की। फुलहटा के धीरज कुमार ठाकुर, मुखिया पति सुजीत बैठा, शिवकुमार तिवारी, सुरेश राय, विद्यानंद राय आदि ने अंचल कार्यालय की व्यवस्था पर अंगुली उठाई। इस बीच फेयर प्राइस डीलर्स एसोसिएशन के नेताओं ने जन वितरण विक्रेताओं व उपभोक्ताओं की समस्या से सबंधित ज्ञापन सौंपा। प्रदेश संगठन मंत्री मनोज कुमार सिंह, जिला अध्यक्ष अशोक कुमार सिन्हा, लक्ष्मी पासवान, शत्रुघ्न महतो, सुरेश कुमार महतो, दिनेश राय, राजकुमार प्रसाद आदि शामिल रहे। मंत्री ने अनुमंडल पदाधिकारी अशोक मंडल से इस संबंध में जल्द ही वार्ता का निर्देश दिया। । बाद में मंत्री नामापुर बांध पर लगे मेडिकल शिविर भी गए। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ वीके ठाकुर से दवा वितरण सहित बाढ़ पीड़ितों को की जा रही मेडिकल जांच की जानकारी प्राप्त की।

बागमती की जलधारा 47 .910 खतरे के निशान से काफी ऊपर बूढ़ी गंडक बांध पर दबाव बढ़ा सैदपुर में रिसाव जारी। अफरा तफरी कल्याणपुर स स प्रखंड क्षेत्र से गुजरने वाली दोनों नदियों के जलस्तर में वृद्धि और बांध पर दबाव होने से लोगों में अफरा-तफरी का माहौल। सैदपुर के वार्ड 12 13 में बांध पर नदी के जल स्तर में वृद्धि को लेकर शनिवार की अपराहन रिसाव होने से लोगों में दहशत व्याप्त हो गई है। वहीं दूसरी ओर बागमती नदी के जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर47.910 हायाघाट में विभागीय अभियंताओं ने बताई है। बांध पर विस्थापित लोगों के मवेशियों की चाड़ा वितरण नहीं होने से पशुपालकों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। विस्थापितों को शुद्ध पेयजल किल्लत बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के नल जल पानी में डूब जाने से प्रभावित लोगों को शुद्ध पेयजल नहीं मिल रहा है।

Share This Post