Nalanda Feviquick Scandle
बिहार

नालंदा फेवीक्विक कांड: दुल्हन की आंखें खोलने के लिए करना पड़ा ऑपरेशन, दूल्हे की प्रेमिका की है करतूत

बिहार के नालंदा जिले के भागन बिगहा ओपी क्षेत्र के एक गांव में दूल्हे की प्रेमिका का बदला लेने का अंदाज सुर्खियों में है। बुधवार तड़के प्रेमी की शादी से नाराज प्रेमिका ने दुल्हन के बाल काट दिये और उसकी आंखों में फेवीक्विक डाल दिया था। इससे दुल्हन की पलकें आपस में सट गयीं। आंखें खोलने के लिए सदर अस्पताल में गुरुवार को नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. नीतीश कुमार ने ऑपरेशन किया।

दोनों पक्षों ने कराई एफआईआर
इस मामले में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर एफआईआर करायी है। दोनों पक्षों ने 23 नामजद व कई अज्ञात लोगों को आरोपित बनाया है। प्राथमिकी में एक-दूसरे पर मारपीट, दुर्व्यवहार करने व जेवर लूटने का आरोप लगाया है। घटना के बाद दो पक्षों में तनाव की स्थिति बनी हुई है। पुलिस एहतियातन गांव में कैम्प कर रही है।  ओपी प्रभारी देवानंद शर्मा ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दूल्हा पक्ष का आरोप
दूल्हे के पिता की प्राथमिकी के अनुसार- उनके इकलौते बेटे की शादी 30 नवंबर को शेखपुरा जिले के एक गांव में हुई थी। मंगलवार की शाम दुल्हन लेकर सभी लोग वापस अपने गांव लौटे थे। रस्म-रिवाज पूरा करने के बाद घर के सभी लोग खाना खाकर सो गये थे। दुल्हन भी एक कमरे में सो रही थी। सुबह चार बजे पिता शौच करने के लिए उठे तो घर से एक महिला को भागते देखा। रोकने का प्रयास किया। लेकिन, वह नहीं रुकी। हालांकि, उन्होंने महिला को पहचानने का दावा किया।

शोर सुनकर घर के सभी लोग जाग गये। बहू के कमरे में गये तो देखा कि उसके बाल कटे हैं। कपड़े भी जहां-तहां से कटे थे। दुल्हन की आंखें फेवीक्विक से चिपकी थीं। कमरे की तलाशी लेने पर 8 भर सोना व 14 भर चांदी के जेवर और 45 हजार नकद रुपये गायब पाये गये। सुबह में घर के लोग आरोपित महिला के घर गये तो उसके घर वाले गाली-गलौज व दुर्व्यवहार करने लगे। मामले में आरोपित महिला के परिवार समेत 12 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है।

प्रेमिका पक्ष का आरोप
प्रेमिका के भाई ने प्राथमिकी में आरोप लगाया है कि बुधवार की सुबह दूसरे पक्ष के 20-25 लोग उसके घर आये और गाली-गलौज करने लगे। उसकी बहन को घर से खींचकर निकाल लिया। घर के लोगों ने विरोध किया तो महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार किया। महिलाओं से सोने-चांदी के जेवर छीन लिये। उसकी बहन को खींचकर आरोपित अपने घर ले गये। वहां एक घंटे तक उसे कमरे में बंद रखा। मारपीट की और उसके जेवर छीन लिये। इस मामले में 11 नामजद व 10-20 अज्ञात को आरोपित बनाया गया है।

Share This Post