बिहार विधानसभा चुनाव 2020

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: अंतिम चरण की 78 सीटों पर थमा प्रचार का शोर, 7 को वोटिंग

बिहार विधानसभा आम चुनाव के तीसरे व अंतिम चरण में 15 जिलों की 78 सीटों पर होने वाले मतदान को लेकर प्रचार का शोर थम गया। सभी दलों के नेताओं व उम्मीदवारों ने अपने पक्ष में मतदाताओं को गोलबंद करने के लिए गुरुवार को पूरी ताकत झोंक दी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा, लोजपा चिराग पासवान सहित अन्य नेता पूरे दिन विभिन्न चुनाव क्षेत्रों में जनसभाओं में शामिल हुए। इस चरण वाले निर्वाचन क्षेत्रों में सात नवंबर को मतदान होगा। चार विधानसभा क्षेत्रों में सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक और शेष 74 विधानसभा क्षेत्रों में सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होगा।

तीसरे चरण में 78 सीटों के लिए 1204 प्रत्याशियों के बीच मुकाबला होगा। इस चरण में 1094 पुरुष व 110 महिला प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इस चरण में विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, मंत्री विजेंद्र प्रसाद यादव, विनोद नारायण झा, रमेश ऋषिदेव, नरेंद्र नारायण यादव, बीमा भारती, लक्ष्मेश्वर राय, खुर्शीद उफ फिरोज अहमद, वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी, पूर्व मंत्री अब्दुल जलील मस्तान, शरद यादव की पुत्री सुभाषिनी यादव, पूर्व मंत्री चंद्रशेखर, पूर्व सांसद लवली आनंद, अब्दुलबारी सिद्दिकी, शिवचंद्र राम, रमई राम सहित अन्य प्रमुख नेताओं के भाग्य का फैसला होगा।

अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि तीसरे चरण में 78 सीटों के लिए 2 करोड़ 35 लाख 54 हजार 71 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें 1 करोड़ 23 लाख 25 हजार 780 पुरुष व 1 करोड़ 12 हजार 05 हजार 378 महिला एवं 894 थर्ड जेंडर के मतदाता शामिल हैं। इनके अतिरिक्त इस चरण में 22 हजार 19 सर्विस मतदाता भी वोट देंगे। इस चरण में वोट देने वालों में 6 लाख 61 हजार 516 नए मतदाता पहली बार मतदान करेंगे और अपना प्रतिनिधि चुनेंगे।

33,782 बूथों का किया गया है गठन
इस चरण में मतदान को लेकर चुनाव आयोग के निर्देश पर 33,782 बूथों का गठन किया गया है। इस चरण में मतदाताओं की संख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा निर्वाचन क्षेत्र सहरसा और सबसे छोटा निर्वाचन क्षेत्र हायाघाट है। इस चरण में सबसे अधिक 31 उम्मीदवार गायघाट में हैं जबकि सबसे कम 9-9 उम्मीदवार चार विधानसभा क्षेत्रों त्रिवेणीगंज, जोकिहाट, बहादुरगंज व ढाका में हैं। चुनाव आयोग के निर्देश पर सभी मतदान केंद्रों पर कोरोना से बचाव को लेकर मॉस्क, सेनेटाइजर, थर्मल थर्मामीटर इत्यादि की सुविधाएं उपलब्ध करायी गयी है। वहीं, दिव्यांग मतदाताओं के लिए व्हील चेयर की भी व्यवस्था की गयी है।


45,953 ईवीएम का होगा उपयोग
तीसरे चरण के चुनाव को लेकर सभी 33,782 बूथों पर ईवीएम (बैलेट यूनिट )का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके साथ ही 33,782 कंट्रोल यूनिट एवं इतने ही वीवीपैट भी प्रयोग किए जाएंगे। चुनाव आयोग के निर्देश पर सभी बूथों पर अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी। सुरक्षा को लेकर तीन स्तरीय व्यवस्था की गयी है। मतदान के दौरान हेलीकॉप्टर से एरियल रिव्यू भी किया जाएगा।

इन 15 जिलों में होगा तीसरे चरण का चुनाव
पश्चिम चंपारण, पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, सहरसा, दरभंगा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर।

इन 78 विधानसभा सीटों पर होगा मतदान
वाल्मीकिनगर, रामनगर(सुरक्षित), नरकटियागंज, बगहा, लौरिया, सिकटा, रक्सौल, सुगौली, नरकटिया, मोतिहारी, चिरैया, ढाका, रीगा, बथनाहा(सुरक्षित), परिहार, सुरसंड, बाजपट्टी, हरलाखी, बेनीपट्टी, खजौली, बाबूबरही, बिस्फी, लौकहा, निर्मली, पीपरा, सुपौल, त्रिवेणीगंज, छातापुर, नरपतगंज, रानीगंज(सुरक्षित), फारबिसगंज, अररिया, जोकिहाट, सिकटी, बहादुरगंज, ठाकुरगंज, किशनगंज, कोचाधामन, अमौर, बायसी, कस्बा, बनमनखी(सुरक्षित), रूपौली, धमदाहा, पूर्णिया, कटिहार, कदवा, बलरामपुर, प्राणपुर, मनिहारी (एसटी), बरारी, कोढ़ा, आलमनगर, बिहारीगंज, सिंघेश्वर(सुरक्षित), मधेपुरा, सोनबरसा(सुरक्षित), सहरसा, सिमरी बख्तियारपुर, महिषी, दरभंगा, हायाघाट, बहादुरपुर, केवटी, जाले, गायघाट, औराई, बोचहां(सुरक्षित), सकरा(सुरक्षित), कुढ़नी, मुजफ्फरपुर, महुआ, पातेपुर(सुरक्षित), कल्याणपुर(सुरक्षित), वारिसनगर, समस्तीपुर, मोरवा व सरायरंजन।

Share This Post