राष्ट्रीय

कम हुए केस पर नहीं मिल रही राहत, देश में पहली बार एक दिन में 4525 मौतें, लगतार तीसरे दिन नए मामले 3 लाख से कम

भारत में कोरोना वायरस के नए मामले भले ही 3 लाख के बेंचमार्क से नीचे आ गए हों, मगर खतरा अब भी बरकरार है। देश में कोरोना के नए केसों में बीते कुछ दिनों से गिरावट देखी जा रही है, मगर मौत के आंकड़े टेंशन पैदा कर रहे हैं, क्योंकि जब कोरोना पीक पर था, तब भी मौत के मामले इतने नहीं आ रहे थे। मंगलवार को देश में एक दिन में कोरोना से 4525 लोगों की मौतें हुई हैं, जो अब तक की सर्वाधिक संख्या है। जब देश में 6 मई को देश में कोरोना के सबसे अधिक मामले (4.14 लाख) आए थे, उस दिन कोरोना से 3920 लोग ही मरे थे। हालांकि, लगातार तीन दिनों से देश में कोरोना के नए मामले तीन लाख से नीचे आ रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 267174 नए केस आए हैं, जो कि कल के मुकाबले करीब पांच हजार केस अधिक हैं। कल एक दिन पहले 2.63 लाख कोरोना केस आए थे और मौतों की संख्या भी कम होकर 4340 दर्ज की गई थी। आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 25495144 पहुंच गई है। इनमें से एक्टिव केसों की संख्या 3221822 है। आज यानी मंगलवार को करीब 3.89 लाख से अधिक कोरोना मरीज ठीक हुए हैं। सोमवार को देश में पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमण से 4.2 लाख से ज्यादा लोग ठीक हुए थे। 

देश में कोरोना वायरस से अब तक सबसे अधिक 4525 मौतें मंगलवार को हुई हैं। कोरोना की किसी भी लहर में होने वाली एक दिन में मौतों का यह सर्वाधिक आंकड़ा है। मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 6 मई को कोरोना के मामले सर्वाधिक थे और तब 4.14 लाख नए संक्रमित मिले थे। लेकिन बुधवार को यह आंकड़ा भले ही 2.67 लाख तक नीचे आ गया, लेकिन इस बीच मौतें बढ़ गईं।

सक्रिय मामले रिकॉर्ड 1.63 लाख घटे:
इस बीच, एक अच्छी बात यह हुई है कि एक दिन में सक्रिय मामले में रिकॉर्ड 1,63,232 की कमी आई है। यानी नए संक्रमण कम होने के साथ सक्रि मामले भी तेजी से घट रहे हैं। जहां 8 मई को देश में सक्रिय मामलों की संख्या 37.23 लाख थे वहीं मंगलवार को यह घटकर 33.53 लाख रह गए हैं। आने वाले दिनों में सक्रिय मामले और कम होंगे तो इससे अस्पतालों पर मरीजों का भार कम होगा और वे रोगियों का बेहतर इलाज कर सकेंगे। इससे भी मौत के आंकड़े में कमी आएगी। 

10 राज्यों में सर्वाधिक 76 फीसदी मौतें:
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 10 राज्यों में सबसे ज्यादा मौतें पिछले चौबीस घंटों के दौरान हुई हैं। इनमें महाराष्ट्र  में 1200, कर्नाटक में 476, दिल्ली में 340, तमिलनाडु में 335, आंध्र प्रदेश में 271, उत्तराखंड में 223, पंजाब में 191, राजस्थान में 157, छत्तीसगढ़ में 149 तथा पश्चिम बंगाल में 147 मौतें शामिल हैं। 

संक्रमण की पीक से 15 दिनों तक मौतों का आंकड़ा ऊंचा रह सकता है: विशेषज्ञ
विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना मामलों की पीक से अगले 15 दिनों तक मौतों की दर ऊंची बनी रहेगी और उसके बाद कमी शुरू होगी। वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के प्रमुख प्रोफेसर जुगल किशोर ने कहा कि संक्रमण के पीक पर पहुंचने का असर मौतों पर अगले 15 दिनों तक दिख सकता है। क्योंकि कोई व्यक्ति संक्रमित होता है तो उसे ठीक होने में कम से कम 15 दिन लगते हैं। वह स्वस्थ हो सकता है या उसकी मृत्यु हो सकती है। 7 मई के बाद से अगले 15 दिनों तक मौतों का आंकड़ा स्थिर रह सकता है तथा इसमें कुछ बढ़ोतरी भी हो सकती है। यदि 7 मई के बाद की स्थिति को देखें तो यह कभी थोड़ा कम तो कभी थोड़ा बढ़ रहा है। लेकिन संक्रमण के हिसाब से इसमें गिरावट नहीं आई है। विशेषज्ञों की मानें तो अगले सप्ताह से इन आंकड़ों में वास्तविक कमी शुरू हो जाएगी क्योंकि 22-23 मई के बीच यह 15 दिनों की अवधि पार कर जाएगी। इसके बाद मौतों का आंकड़ा घटना शुरू हो जाएगा। 

मई में किस तरह कोरोना के मामलों में उतार-चढ़ाव हुआ है, इन आंकड़ों से समझिए।
17 मई 2021: 263,045 नए केस और  4,340 मौतें
16 मई 2021: 281,860 नए केस और  4,092 मौतें
15 मई 2021: 310,822 नए केस और  4,090 मौतें
14 मई 2021: 326,123 नए केस और 3,879 मौतें
13 मई 2021: 343,288 नए केस और 3,999 मौतें
12 मई 2021: 362,406 नए केस और 4,126 मौतें
11 मई 2021: 348,529 नए केस और 4,200 मौतें
10 मई 2021: 329,517 नए केस और 3,879 मौतें
9 मई 2021: 366,499 नए केस और 3,748 मौतें
8 मई 2021: 409,300 नए केस और 4,133 मौतें
7 मई 2021: 401,326 नए केस और 4,194 मौतें
6 मई 2021: 414,433 नए केस और 3,920 मौतें
5 मई 2021: 412,618 नए केस और 3,982 मौतें
4 मई 2021: 382,691 नए केस और 3,786 मौतें
3 मई 2021: 355,828 नए केस और 3,438 मौतें
2 मई 2021: 370,059 नए केस और 3,422 मौतें
1 मई 2021: 392,562 नए केस और 3,688 मौतें

Share This Post