Education

स्टूडेंट्स को राहत, बिहार में अब पुरानी व्यवस्था के तहत ही डीएलएड कोर्स के नये सत्र में होगा एडमिशन

बिहार के सभी सरकारी और निजी शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों में डिप्लोमा इन एलिमेन्ट्री एजुकेशन (डीएलएड) कोर्स में दाखिला पहले से चली आ रही व्यवस्था के तहत ही लिया जाएगा। हालांकि यह व्यवस्था मात्र मौजूदा सत्र अर्थात 2020-22 में नामांकन के लिए ही की गयी है। मंगलवार को शिक्षा विभाग ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अनुरोध पर यह फैसला लिया है। इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी गयी है।
 
शिक्षा विभाग ने अप्रैल माह में ही निर्णय लिया था कि एनसीटीई और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से सम्बद्धता प्राप्त बिहार राज्य के सभी राजकीय, अराजकीय प्रशिक्षण संस्थानों तथा महाविद्यालयों में डीएलएड प्रशिक्षण कोर्स में नामांकन संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आधार पर लिया जाएगा। बीएड की तर्ज पर होने वाली इस प्रवेश परीक्षा के आयोजन का जिम्मा बीएसईबी को दिया गया। इस संबंध में शिक्षा विभाग ने 22 अप्रैल 2020  को अधिसूचना जारी की थी। किंतु कोविड-19 महामारी से उत्पन्न स्थिति के कारण बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा अबतक डीएलएड में नामांकन को लेकर संयुक्त प्रवेश परीक्षा नहीं ली जा सकी है। 

शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश 
संयुक्त प्रवेश परीक्षा में विलंब को देखते हुए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने पुरानी व्यवस्था के तहत मौजूदा सत्र में नामांकन लेने का अनुरोध किया। इसके मद्देनजर शिक्षा विभाग ने मंगलवार को आदेश जारी कर दिया। विभाग के उप सचिव अरशद फिरोज द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि मंगलवार को जारी आदेश के पूर्व नामांकन प्रक्रिया से संबंधित निर्गत सभी संकल्प और अधिसूचना सत्र 2020-22 के लिए इस हद तक संशोधित समझे जाएं। विभाग के आदेश के बाद सभी ट्रेनिंग कालेज अब डीएलएड कोर्स में नामांकन के लिए अपनी व्यवस्था संचालित कर पायेंगे।

Share This Post