Crime
बिहार

Bihar Crime: ‘तुम्हारा बाप चोर है’ कहने पर दोस्त ने ही लोहे की रॉड से पीट-पीटकर मार डाला

तुम्हारा बाप चोर है। इतना ही कहा था प्रदीप ने। जिनके साथ रोज उठना-बैठना था, उनमें से ही किसी को प्रदीप ने यह कह दिया। बस इतनी सी ही खता की सजा उसे मौत के रूप में मिली। 22 वर्षीय प्रदीप को उसके जानने वाले साथियों ने ही इतना पीटा कि उसकी मौत हो गयी।

बिहार के भागलपुर जिले के तातारपुर थाना क्षेत्र के रामसर के रहने वाले प्रदीप मंडल हत्याकांड में पुलिस ने दो नाबालिग सहित तीन को गिरफ्तार किया। पुलिस ने प्राथमिक अभियुक्त रामसर के रहने वाले विकास हरि उर्फ गोरका हरि के साथ ही दो नाबालिग को विधि विरुद्ध कांड के लिए पकड़ा। नाबालिग को जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया जायेगा। एएसपी सिटी पूरण झा ने गुरुवार की शाम तातारपुर थाना में प्रेस वार्ता के दौरान हत्या के कारणों और गिरफ्तारी का खुलासा किया। इस मौके पर तातारपुर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर सुबोध कुमार भी मौजूद थे।

लोहे के रॉड से पीटा था, परिजनों ने घर पर ही रखा
प्रदीप के भाई ने पुलिस को बताया था कि वह शाह मार्केट में एक लैपटॉप की दुकान में काम करता था। 18 नवंबर की देर शाम वह वहीं से काम कर लौट रहा था जब उन लड़कों से विवाद हुआ और उन सभी ने मिलकर उसे लोहे के रॉड आदि से बेरहमी से पीट दिया। पिटाई से जख्मी होने के बाद प्रदीप के घरवाले उसे इलाज के लिए अस्पताल नहीं ले गये। डॉक्टर से बात कर घर पर ही उसका इलाज कराया जाता रहा। प्रदीप के जांघ और हाइड्रोसिल में भी गंभीर चोट थी। 22 नवंबर को जब उसकी हालत बिगड़ गयी तब उसे मायागंज स्थित अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया था। 

घटना में 12 लोग शामिल, सभी की होगी गिरफ्तारी
एएसपी सिटी पूरण झा ने बताया कि प्रदीप मंडल हत्याकांड में छह लोगों को प्राथमिकी में नामजद किया गया था। उन्होंने बताया कि उनके अलावा भी छह लोग घटना को अंजाम देने में शामिल थे। अप्राथमिकी अभियुक्तों की पहचान होने की बात उन्होंने कही। उन सभी की जल्द गिरफ्तारी होने की बात कही गयी है। तातारपुर थाना लाये गये विकास उर्फ गोरका हरि ने बातचीत के दौरान बताया कि प्रदीप उन्हीं लोगों का साथी था पर उस दिन उसने गालीगलौज की और बाप को चोर कह दिया जिससे आक्रोशित होकर उसकी पिटाई की थी। 

Share This Post