समस्तीपुर

समस्तीपुर : भारी रिसाव के बाद लोगों में दहशत, पलायन तेज

समस्तीपुर । शिवाजीनगर में करेह नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि के कारण तटबंध पर पानी का दबाव अत्यधिक बढ़ जाने से कई जगहों पर शनिवार को तेज गति से रिसाव होना प्रारंभ हो गया है। इस वजह से लोगों में अफरातफरी का माहौल कायम हो गया है। लोग अपने माल-मवेशी के साथ तटबंध पर शरण लेना शुरू कर दिया है। बताया जा रहा है कि शनिवार को बुनियादपुर स्लूस गेट के दीवार से तेज गति से रिसाव होना प्रारंभ हो गया। रिसाव वाले स्थल से तीन पंपसेट के बराबर पानी निकल रहा था। जिस कारण बुनियादपुर के आसपास बसे 10 किलोमीटर की परिधि के लोग ऊंचे स्थानों पर शरण लेना प्रारंभ कर दिया। बताया जा रहा है कि घिवाही, कांकर, सभिया आदि स्थानों पर शनिवार को रिसाव जारी रहा। जिस कारण लोगों में हड़कंप मचा रहा। जेई मुरली मनोहर सुधांशु ने बताया कि करेह नदी का जलस्तर में शनिवार के दोपहर तक 2 मीटर 23 सेंटीमीटर वृद्धि हुई। उन्होंने बताया कि हमारे टीम में कार्यपालक अभियंता उमेश मंडल, संवेदक सुनील कुमार सुमन,जय प्रकाश सिंह, छन्नू यादव सहित अन्य ग्रामीणों के अथक प्रयास से रिसाव को नियंत्रित किया गया। स्थानीय लोगों का इसें सराहनीय योगदान रहा। इधर, प्रशासन की ओर से रहियार उत्तर, रहीयार दक्षिण पंचायत के लोगों को हाई अलर्ट जारी करते हुए अपने माल मवेशी क साथ ऊंचे स्थानों पर चले जाने के लिए ध्वनि विस्तारक यंत्र से माइकिग कराई गई। बुनियादपुर एवं गवाही के आसपास 10 किलोमीटर परिधि के लोगों में बाढ की संभावना से भय व्याप्त हो गया है।

सिघिया,संस: बुनियादपुर से सिरसिया ढाला तक करेह नदी के पूर्वी तटबंध पर पानी के भारी दबाव के बाद अब लोग सुरक्षित स्थानों पर जाने लगे हैं। प्रशासन के द्वारा भी लोगों को उंचे स्थानों पर चले जाने के लिए माइकिग कराई गई। रोसड़ा एसडीओ अमन कुमार सुमन ने बताया कि हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। करेह नदी के पूर्वी तटबंध पर बांध की रेंज 32 से 50 के बीच कई स्थानों पर स्थिति गंभीर बनी हुई हैं। लोगों को सुरक्षात्मक ²ष्टिकोण से ऊंचे स्थान पर चले जाने का अपील करते हुए कहा है कि सभी लोग ऊंचे स्थान पर चले जाएं। करेह नदी का पानी अब खतरे के निशान से 2.185 मीटर ऊपर बह रही है। इस स्थिति में कभी भी पूर्वी तटबंध टूट सकता है।

Share This Post