बिहार

बिहार में लापरवाही पड़ रही भारी, शहरी क्षेत्रों में 20 प्रतिशत तक बढ़ गए कोरोना संक्रमित मरीज

बिहार में 16 दिनों में शहरी क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में 20 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। 10 अगस्त को राज्य के शहरी इलाकों में 19 फीसदी कोरोना संक्रमित मरीज थे। जो, कि 27 अगस्त को बढ़कर 39 फीसदी हो गए। 

स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार 10 अगस्त को राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में 81 फीसदी कोरोना संक्रमित मरीज थे। जबकि ग्रामीण इलाकों में 27 अगस्त तक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या कम हो गयी और यह 61 फीसदी हो गयी। विभागीय सूत्रों के अनुसार 10 अगस्त तक राज्य में 82 हजार 741 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान की गई थी। जबकि 27 अगस्त तक कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 लाख 28 हजार 850 हो गयी। इस प्रकार, 16 दिनों में राज्य में कुल 46 हजार 109 नए संक्रमितों की पहचान की गई। इनमें ग्रामीण क्षेत्र से ज्यादा शहरी क्षेत्र में कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई। 

शहरी क्षेत्र में मास्क नहीं पहनने के कारण संक्रमण बढ़ा 
कोरोना के लिए डेडिकेटेड अस्पताल नालन्दा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच ) के  नोडल पदाधिकारी डॉ. अजय सिन्हा ने कहा कि शहरी क्षेत्र में मास्क के उपयोग को नजरअंदाज करने और घनी आबादी के बीच सोशल डिस्टेंसिंग की कमी के कारण संक्रमण में बढ़ोतरी हुई है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि राज्य में कोरोना की पहचान व इलाज की सुविधा में बढ़ोतरी होने से संक्रमण की दर में गिरावट आयी है। 

08 अगस्त तक संक्रमितों की स्थिति 
शहरी क्षेत्र – 19 फीसदी 
ग्रामीण क्षेत्र – 81 फीसदी 

27 अगस्त तक संक्रमितों की स्थिति  
शहरी क्षेत्र – 39 फीसदी 
ग्रामीण क्षेत्र – 61 फीसदी 

Share This Post