पटना बिहार

Patna: महावीर मंदिर के स्वामित्व को लेकर तनातनी बढ़ी, मजिस्ट्रेट और पुलिस बल तैनात

महावीर मंदिर के स्वामित्व को लेकर न्याससमिति के सचिव आचार्य किशोर कुणाल और महंत महेन्द्रदास के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। अखिल भारतीय श्रीपंच रामानंदी निर्वाणी अखाड़ा हनुमानगढ़ी अयोध्या द्वारा नियुक्त महावीर मंदिर पटना के सर्वराहकार महंत महेंद्र दास के पक्ष में अयोध्या के कई साधु खड़े हैं तो पटना के कई धर्माचार्य आचार्य किशोर कुणाल का समर्थन कर रहे  हैं। 

अखिल भारतीय चतु:संप्रदाय विरक्त वैष्णव साधु समाज के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीधना पीठाधीश्वर मुनीश्वर दास महात्यागी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाया है कि पूर्व आईपीएस किशोर कुणाल द्वारा जिला प्रशासन को गुमराह कर राम जानकी मंदिर आश्रम को पुलिस छावनी में तब्दील कर प्रशासन का दुरुपयोग किया गया है। इसकी शिकायत बिहार के मुख्यमंत्री से की गई है। 

दरअसल पटना जिला प्रशासन ने महावीर मंदिर प्रशासन की शिकायत पर महावीर मन्दिर और शेखपुरा के रामजानकी मंदिर के पास मजिस्ट्रेट और पुलिस बल की तैनाती कर दी है। इसके बाद दोनों पक्षों में फिर से विवाद बढ़ गया है।

Share This Post