Private Hospital
पटना बिहार

बिहार में प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी जारी, एक बेड का लिया 50 हजार, कोविड 19 की लिस्ट में नाम नहीं, फिर भी कर रहे संक्रमितों का इलाज

रविवार को पटना के तीन निजी अस्पतालों में छापेमारी की गई। हनुमान नगर स्थित बुद्धा हॉस्पिटल पर एक मरीज से एक बेड के लिए 50 हजार लेने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है। इधर बाइपास के दो निजी अस्पतालों को प्रशासन ने नोटिस जारी कर पूछा है कि कोविड-19 की सूची में जब उनका नाम नहीं है, तो कैसे उपचार कर रहे थे। 

डीएम को शिकायत मिली थी कि हनुमान नगर स्थित बुद्धा हॉस्पिटल में एक मरीज को उपचार के लिए 50 हजार लिया गया है। ऐसा कई मरीजों के साथ इस अस्पताल ने किया है। डीएम ने कोविड-19 के नोडल अधिकारी प्रवीण कुंदन को मजिस्ट्रेट के साथ अस्पताल में छापेमारी करने को कहा। 

छापामारी दल का नेतृत्व कर रहे प्रवीण कुंदन ने बताया कि जिस मरीज ने 50 हजार लेने की शिकायत की थी, उसने अस्पताल द्वारा दी गई कच्ची रसीद भी दिखाई है। इस मामले में अस्पताल के संचालक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि बाइपास स्थित दो अन्य अस्पतालों की भी जांच की गई, जिसमें पाया गया कि बगैर सूचीबद्ध होने के बावजूद यहां पर कोविड-19 के मरीजों का उपचार किया जा रहा था तथा उनसे मनमाने तरीके से पैसे की वसूली की जा रही थी। 

तीन एंबुलेंस वालों ने लिया ज्यादा किराया, होगी जांच
तीन  एंबुलेंस संचालकों के खिलाफ रविवार को शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसकी जांच होगी। अधिकारियों का कहना है कि दर्ज की गई शिकायत में कहा गया कि निर्धारित से अधिक पैसे लिये गए हैं। इस मामले में जांच टीम जल्द ही कार्रवाई करेगी। प्रशासन ने निजी एंबुलेंस शिकायत दर्ज करने के लिए फोन नंबर और वाट्सएप नंबर जारी किया है। जिस पर कोई भी शिकायत दर्ज कर सकता है।

Share This Post