Corona Vaccine
बिहार

बिहार में कोरोना वैक्सीनेशन के तीसरे चरण के लिए 18 वर्ष से ऊपर वालों का रजिस्ट्रेशन 28 से

बिहार में 18 से 44 साल के लोगों के एक मई से शुरू हो रहे कोरोना टीकाकरण अभियान को लेकर 28 अप्रैल से निबंधन की प्रक्रिया शुरू होगी। राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने शनिवार को ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी। उन्होंने साफ किया कि बिना पूर्व निबंधन के 18 से अधिक उम्र वाले कोरोना टीका नहीं ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि 18 से 44 साल के व्यक्तियों के बीच श्रेणी बनाई जा सकती है। राज्य सरकार इस पर विचार कर रही है। इसको लेकर उच्चस्तरीय बैठक में विचार किया जाएगा। 

मनोज कुमार ने बताया कि अब तक सिर्फ सीरम इंस्टीट्यूट ने ही कोरोना के टीका के मूल्य की घोषणा की है, जबकि अन्य टीका निर्माताओं के टीका की मूल्य दर अभी सामने नहीं आई है। राज्य सरकार अपनी जरूरतों को देखते हुए सीरम इंस्टीट्यूट से कोविशिल्ड टीका खरीदने का निर्णय किया है। हालांकि, अभी इसकी संख्या और कब तक खरीद होगी इस पर अंतिम निर्णय लिया जाना बाकी है। 

आरटीपीसीआर किट की नहीं कोई कमी 
एक सवाल के जवाब में श्री कुमार ने कहा कि राज्य में आरटीपीसीआर जांच किट की कोई कमी नहीं है। राज्य के 18 सरकारी जांच केंद्रों पर आरटीपीसीआर किट से जांच की जा रही है, जिसे लगातार जांच किट उपलब्ध कराई जाती है। कहा कि निजी लैब में आरटीपीसीआर जांच किट की कमी को लेकर बात की जाएगी, ताकि उन्हें सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकें। सरकारी जांच केंद्रों पर कहीं- कहीं आरटीपीसीआर सैम्पल लेने की कार्रवाई रोके जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि आरटीपीसीआर जांच लैब में कर्मियों के संक्रमित होने के कारण सैम्पल लेने की प्रक्रिया रोकी गयी थी, ताकि सैम्पल लेने के बाद बैकलॉग नहीं बढ़े और खराब न हो। जांच लैब को एक दिन सेनेटाइज करने के लिए बंद करना पड़ता है। 

Share This Post