समस्तीपुर

समस्तीपुर में चुनाव की तिथि घोषित होने से पूर्व सरकारी भवनों व सार्वजनिक स्थलों पर लगे बैनर-पोस्टर, होर्डिंग हटाएं -ऐसडियो

अनुमंडल कार्यालय स्थित सभागार में एसडीओ ब्रजेश कुमार की अध्यक्षता में विधान सभा चुनाव को लेकर दो अलग -अलग सिफ्टों में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम बुधवार को आयोजित की गई । प्रशिक्षण में कुल 87 सेक्टर पदा धिकारी शामिल थे । इसमें 139 रोसड़ा (सु.) विधान सभा क्षेत्र के 41, 132 वारिसनगर विधान सभा क्षेत्र के 7 तथा 140 हसनपुर विधान सभा क्षेत्र के 39 सेक्टर पदाधिकारियों के अलावे एसडीपीओ सहरियार अख्तर तथा सभी थाना के थाना के थानाध्यक्षों ने हिस्सा लिया । एसडीओ ने प्रशिक्षण कार्यक्रम में सेक्टर पदाधिकारियों को अपने कार्य क्षेत्र में पड़ने वाले मतदान केन्द्रों में पेयजल , बिजली , शौचालय , रैम्प आदि की उपलब्धता के अलावे नए बूथों का सत्यापान विभिन्न प्रपत्रों में रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया ।

साथ ही स्थानीय लोगों एवं संबधित थाना क्षेत्र के थानाध्यक्षों से सम्पर्क कर वैसे लोगों की चिन्हित करने का निर्देश दिया जो चुनाव के दौरान गड़बड़ी और बाधा उत्पन्न कर सकता है। एसडीपीओ ने कहा कि जितने भी सरकारी भवन और सार्वजनिक स्थलों पर पोस्टर – पर्चा , हॉर्डिंग लगे हैं चुनाव की तिथि घोषित होने से पूर्व संबधित संस्थानों , व्यवसायिक प्रतिष्ठानों एवं निजी स्तर से लगाए गए लोगों से हटवाए जाने का काम पूरा करने को कहा । यदि लोग इसका उलघंन करते पाए गए तो उन पर सम्पत्ति विरूपन अधिनियम के तहत कार्रवाई होगी । एसडीओ ने बताया कि चुनावी कायोंं को लेकर प्रत्येक बुधवार को समीक्षात्मक बैठक आयोजित की जाएगी ताकि स्वच्छ एवं शांतिपूर्ण मतदान का कार्य संपन्न हो सके । उन्होंने बताया कि रोसड़ा विधान सभा क्षेत्र में कुल 476 मतदान केन्द्रों में 158 सहायक मतदान केन्द्र है । जबकि हसनपुर विधान सभा क्षेत्र में कुल 419 मतदान केन्द्रों में 145 सहायक मतदान हैं ।

एसडीओ के औचक निरीक्षण में कई पदाधिकारी अनुपस्थित

नवपदास्थापित एसडीएम मो. जफर आलम ने बुधवार को साढ़े ग्यारह बजे दिन में मोहनपुर पहुंचकर प्रखंड कार्यालय, अंचल कार्यालय, बाल विकास कार्यालय व मनरेगा कार्यालय का औचक निरीक्षण किया । बाद में उन्होंने रसलपुर पहुंचकर कटाव-निरोधी बंडाल सह बांध का भी जायजा लिया और गंगा नदी के जलस्तर आदि के बारे में जानकारी प्राप्त की। एसडीएम के औचक निरीक्षण से उपरोक्त कार्यालयों के कर्मियों में अफरा-तफरी का माहौल देखा गया । जानकारी के अनुसार निरीक्षण के वक्त बीडीओ, सीओ, सीडीपीओ व मनरेगा के पीओ अपने-अपने कार्यालय से अनुपस्थित पाए गए । प्रोग्राम ऑफिसर के कार्यालय में तो ताला लटका हुआ था । चूंकि पटोरी की सीडीपीओ ही यहां के भी प्रभार में हैं और सोमवार, मंगलवार व बुधवार को उन्हें मोहनपुर स्थित कार्यालय में उपस्थित रहना है, किन्तु वे लगातार अनुपस्थित रह रही हैं।

प्रखंड कार्यालय के कुछ कर्मी समेत अंचल कार्यालय के कार्यालय परिचारी दिलीप कुमार व आइटी असिस्टेंट अजित कुमार भी अपने कार्यालय से अनुपस्थित पाए गए। पदाधिकारियों व कर्मियों की अनुपस्थिति से एसडीएम ने बताया कि अग्रेतर कार्रवाई के लिए वे निरीक्षण रिपोर्ट डीएम को भेजेंगे। इसके बाद एसडीएम ने रसलपुर पहुंचकर गंगा नदी के जलस्तर, कटाव-निरोधी बंडाल सह बांध की सुरक्षा का मौके पर जायजा लिया और वहां उपस्थित संबंधित जेई से जानकारी प्राप्त की।

Share This Post